रविवार को चढ़ाए सूर्य देवता को जल, मिलेगा अनोखा फल

हर दिन के अपने अलग-अलग टोटके होते हैं. ऐसे में अगर आप रविवार के दिन को टोटका या उपाय करना चाहते हैं तो आप सभी इस बात से वाकिफ ही होंगे कि रविवार को भगवान सूर्य की पूजा की जाती है और शास्त्रों की मानें तो जो व्यक्ति प्रतिदिन सुबह सूर्य देव को अर्घ्य देता है, उसके जीवन में  कभी किसी सुख की कमी नहीं होती. ऐसे में अगर आप चाहे तो रोज ऐसा न करके रविवार की सुबह सूर्य देव को जल जरूर दें दे. आपको बता दें कि ऐसा करने से घर में सुख समृद्धि बनी रहती है. इसी के साथ आपको यह भी बता दें कि सूर्य को जल देने के नियम भी हैं.रविवार को चढ़ाए सूर्य देवता को जल, मिलेगा अनोखा फल

आइए बताते हैं.. आपको बता दें कि जल अर्पित करते समय इस मंत्र का जाप करना उचित होता है. 
ॐ सूर्याय नम:ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः
ऊँ घृणि: सूर्यादित्योम
ऊँ घृणि: सूर्य आदित्य श्री
ऊँ ह्रां ह्रीं ह्रौं स: सूर्याय: नम: 

इसी के साथ सूर्य पूजा में यह भी करें..

कहा जाता है कि शास्त्रों में दान का बहुत महत्व बताया गया है इस वजह से तांबे के बर्तन, लाल कपड़े, गेंहू, गुड़ और लाल चंदन का दान करें.

सूर्य को जल चढ़ाने के नियम –

आप सभी को बता दें कि जल अर्पित करते समय सूर्यदेव को कभी भी बिना स्नान के जल अर्पित न करें और साथ ही तांबे की धातु पर सूर्य का अधिपत्य है, इसलिए भगवान आदित्य को जल अर्पित करते तांबे के लोटे से अर्घ्य दें. इसी के साथ उस लौटे में चावल, लाल रंग के फूल और लाल मिर्च के कुछ दाने भी डाल ले और फिर सूर्यदेव को जल अर्पित करें इस समय पैर में जल की छीटें पड़ने से फल नहीं मिलता इसलिए दूर होकर जल चढ़ाए.

महामृत्युंजय मंत्र का इस वक्त करें जाप, होंगे सब काम पूरे
भगवान श्री राम ने देवी सीता को पहली बार दिया था ये उपहार

Check Also

शनि पीड़ा से मुक्ति के कुछ उपाय

भगवान शनि देव का ग्रहों में विशेष स्थान है। दरअसल खगोलीय दृष्टिकोण से शनि ग्रह …