बुद्ध पूर्णिमा 18 मई 2019 को मनाई जा रही: जानें-पूजन विधि और महत्व

बुद्ध बौद्ध धर्म के संस्थापक थे और उनका जन्म 563 ई. पूर्व के बीच शाक्य गणराज्य की तत्कालीन राजधानी कपिलवस्तु के निकट लुंबिनी, नेपाल में हुआ था. बुद्ध को एशिया का ज्योति पुंज कहा जाता है. मान्यता है कि इसी दिन भगवान गौतम बुद्ध को ज्ञान की प्राप्ति हुई थी. बौद्ध धर्म के लोग इस दिन को बहुत धूम-धाम से मनाते हैं. इस धर्म को मानने वाले ज्यादातर चीन, जापान, कोरिया, थाईलैंड, कंबोडिया, श्रीलंका, नेपाल, भूटान और भारत जैसे कई देशों में रहते हैं. इस बार बुद्ध पूर्णिमा 18 मई 2019 को मनाई जा रही है.

जैन धर्म में संथारा को कहा जाता 'फेस्टिवल ऑफ डेथ'
किस ग्रह की क्या भूमिका होती: शुभ और अशुभ कार्यों के लिए

Check Also

भूलकर भी न करें इस तरह गायत्री मंत्र का जप, जानें 7 खास बातें

शास्त्रों में गायत्री मंत्र का बहुत महत्व होता है। गायत्री जयंती ज्येष्ठ महीने के शुक्ल पक्ष …