धनतेरस : धनतेरस पर इस समय खरीदारी करने से मिलेंगा शुभ समाचार

कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि का हिंदू धर्म में काफी महत्व है. इस तिथि को धनतेरस का त्यौहार मनाया जाता है. हिंदू धर्म के सबसे बड़े त्यौहार दिवाली से ठीक दो दिन पहले यह त्यौहार आता है. इस दौरान प्रदोषकाल में धन की देवी माता लक्ष्मी, धन के देवता कुबेर, मृत्यु के देवता यमराज और आयुर्वेद के देवता धनवंतरी जी का पूजन किया जाता है. तत्पश्चात पूरे घर में और घर के बाहर दीप प्रज्ज्वलित किए जाते हैं.

धनतेरस पर कब करें खरीदारी ?

धनतेरस के दिन सोने,चांदी और पीतल आदि के बर्तन खरीदने की भी परंपरा है और ऐसा करना शुभ माना जाता है. हालांकि प्रश्न उठता है कि कब खरीदारी करना शुभ होता है. इसके लिए आपको संध्याकाल का चयन करना चाहिए. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, धनतेरस के दिन शाम का समय अच्छा रहता है.

धनतेरस का मंत्र…

धनतेरस के दिन पूजन के दौरान इस मंत्र का जाप करें. ‘यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धनधान्याधिपतये, धनधान्यसमृद्धिं मे देहि दापय स्वाहा’. इसका अर्थ यह हुआ कि हे धन धान्य के अधिपति देवता यक्षराज कुबेर, मुझे सदैव धन-धान्य और समृद्धि प्रदान कीजिए.

क्यों मनाते हैं धनतेरस…

ऐसी मान्यता है कि समुद्र मंथन के दौरान आयुर्वेद के देवता धनवंतरी जी समुद्र से प्रकट हुए थे और उनके एक हाथ में अमृत का कलश था. इस दौरान कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि थी और आगे जाकर इसे धनतेरस के रूप में मनाया जाने लगा. इसके साथ ही और भी कई तरह की कथाएं और मान्यताएं धनतेरस से संबंध रखती है.

चाहते हैं धन का आगमन, तो गणेशोत्सव में करें यह चमत्कारी टोटका
धनतेरस: जानिए धनतेरस की पौराणिक कथा के बारे में...

Check Also

महाभारत: इस कारण तीरों की शैया पर भीष्म को पड़ा था सोना, कर्म कभी नहीं छोड़ते पीछा

जीवन में कभी भी बुरे कर्म न करें अन्यथा किसी न किसी जन्म में कर्मफल …