शाही सवारी में 6 रूपों में भक्‍तों को दर्शन देंगे महाकाल

07_09_2015-mahakal14उज्जैन। राजाधिराज भगवान श्री महाकालेश्वर की श्रावण-भादौ मास की अंतिम व शाही सवारी सोमवार को निकलेगी। इसमें राजा अपनी प्रजा को छह रूपों में दर्शन देंगे।

देश-विदेश के हजारों भक्त दर्शन को उमड़ेंगे। शाम 4 बजे मंदिर से सवारी शुरू होगी। परंपरागत मार्गों से होकर रामघाट पहुंचेगी। यहां पूजन पश्चात सवारी रात करीब 8.15 बजे मंदिर लौटेगी।

भादौ कृष्ण नवमी पर रविवार को भगवान महाकाल को सवा लाख बिल्व पत्र तथा सहस्त्र कमल अर्पित किए गए। पं.महेश पुजारी के आचार्यत्व में अहमदाबाद की भक्त करुणा जैन ने शिव सहस्त्र नामावली द्वारा राजा को कमल अर्पित किए। भगवान के दिव्य रूप के दर्शन के लिए भक्त उमड़े।

 

सदियों पहले चाणक्य ने बताए थे ये 7 रहस्य
गणपति को क्यों नहीं चढ़ानी चाहिए तुलसी?

Check Also

आखिर भगवान राम को उनके ही भक्त ने कैसे हराया

पुराणों में इस कथा का उल्लेख है कि अश्वमेघ यज्ञ के पूर्ण होने के पश्चात …