देखिए: कुछ इस तरह आए दुनिया में धर्म

images (7)पृथ्वी पर कई धर्म हैं। सनातन धर्म यानी हिंदू धर्म को सबसे प्राचीन माना गया है। मान्यता है कि अन्य धर्मों की उत्पत्ति इसके बाद ही हुई है। धर्म का उद्भव हर सभ्यता में लोगों को जोड़ने के लिए हुआ था। आधुनिक दौर में भी लोग एक दूसरे से धर्म के कारण ही जुड़े हुए हैं। धर्म एकता के सूत्र में बांधता है।

हिंदू धर्म की उत्पत्ति के बाद जो दूसरा धर्म आया वो था पारसी धर्म इसके बाद ईसाई धर्म, मुस्लिम धर्म के अनुयायी लोग बने। जो लोग इन धर्मों की नैतिक बातों से प्रभावित हुए वह सभी इन धर्मों के अनुयायी बनते गए।

बौद्ध धर्म का उद्भव भारतवर्ष में हुआ लेकिन यह आधुनिक समय में समूचे एशिया में इस धर्म को मानने वाले अनुयायी मौजूद हैं। श्रीलंका,चीन, जापान आदि ये ऐसे देश हैं जहां बौद्ध धर्म को मानने वाले अनुयायियों की संख्या बहुत ज्यादा है।

ठीक इसी तरह समूचे एशिया में हिंदू धर्म और बौद्ध धर्म के अलावा जो तीसरा धर्म है वो है ईसाई धर्म इसके अनुयायी भी बहुत ज्यादा हैं। ठीक इसी तरह मुस्लिम धर्म है। जो कि पाकिस्तान, सउदी अरब, इंडोनेशिया, कुवैत के अलावा अन्य देशों में भी इस धर्म के अनुयायी बहुतायत संख्या में मिलते हैं।

हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म, ईसाई धर्म, यहूदी धर्म और मुस्लिम धर्म संसार के पांच ऐसे धर्म हैं जिनके अनुयायी आधुनिक दौर में भी बहुत बड़ी संख्या में हैं। पिछले एक हजार वर्षों में इन धर्मों के चलते मानव जाति पर गहरा प्रभाव पड़ा है। आलम यह हो चला है कि धर्म के कारण ही कई देशों में बिखराव की स्थिति बन गई। दो देश अलग-अलग बंट गए।

धर्म इसलिए आया कि लोग जुड़ें लेकिन समय दर समय यह परिवर्तित होता गया। कैसे दुनिया के ये पांच प्रमुख धर्मों अस्तित्व में आए? कैसे दुनिया आस्था के क्षेत्रों में विभाजित होती गई था?

इस बात को अमेरिका के ऑनलाइन न्यूज पेपर बिजनेस इनसाइडर की वेबसाइट पर बखूबी तरीके से बताया गया है। यह एनिमेटेड वीडियो नक्शा बहुत खूबसूरती से धर्म के उदय के बारे में दिखाता है।

 

अध्यात्म की नजर से परमआनंद की अनुभूति है काम
देवउठनी एकादशी कल, इस विधि से करें भगवान विष्णु की पूजा

Check Also

आखिर भगवान राम को उनके ही भक्त ने कैसे हराया

पुराणों में इस कथा का उल्लेख है कि अश्वमेघ यज्ञ के पूर्ण होने के पश्चात …