रावण ने मारी थी लक्ष्मण को ब्रह्मशक्ति।

ravan-566d0b2c6eba4_l (1)बीकानेर -महाजन. राम-रावण की सेनाओं के मध्य हुए युद्ध में मेघनाद ने राम व लक्ष्मण को अपने बाणों से मूर्छित कर दिया व उन्हें मृत समझकर अपने महल में लौट गया वहीं मेघनाद वध के बाद बौखलाये रावण ने लक्ष्मण को शक्तिबाण मारा।

चौंकिए मत ये सब राजस्थान राज्य पाठ्यपुस्तक मण्डल की ओर से कक्षा 6 में लगाई गई हिन्दी की पूरक पाठ्यपुस्तक में प्रकाशित है।

 रामायण व रामलीला में जहां लक्ष्मण के ब्रह्मशक्ति मेघनाद ने मारी थी वहीं इस पुस्तक में गलत जानकारी देकर बच्चों को भ्रमित किया जा रहा है।

पुस्तक के पाठ संख्या 11 लंका विजय में युद्ध प्रारम्भ होने पर मेघनाद की ओर से राम व लक्ष्मण को मूर्छित कर देने के बाद उन्हें मृत समझकर महल में लौट जाने व बाद में विभीषण द्वारा राम व लक्ष्मण का उपचार करने, दुबारा युद्ध में लक्ष्मण द्वारा मेघनाद के महल में घुसकर उसका वध करने का विवरण दिया गया है।

 साथ ही लंका के सब योद्धाओं के मारे जाने के बाद रावण द्वारा लक्ष्मण को शक्ति बाण मार कर बेहोश कर देने व सुषेण वैद्य के बताने पर हनुमानजी द्वारा संजीवन बूटी लाने की जानकारी दी गई है।

लक्ष्मण के उपचार के दौरान राम को रावण के साथ युद्ध में लीन बताया गया है जबकि रामायण व रामलीलाओं में राम लक्ष्मण के होश में आने तक विलाप करते नजर आते है।

पाठ्य पुस्तक में गलत व अधूरी जानकारी होने से पढ़ाने वाले शिक्षक भी भ्रमित हो जाते है एवं विद्यार्थियों के सवालों पर चुपी साध लेते है।

 

घर में इन यंत्रों की स्थापना से दूर होता है दुर्भाग्य का साया
अध्यात्म के इस रहस्य से खुद में करें भगवान के दर्शन

Check Also

श्री राम की यह आरती देगी आपको कीर्ति

आरती आपके द्वारा की गई पूजा में आई छोटी से छोटी कमी को दूर कर …