विजयादशमी 2018: रावण ने मरते समय लक्ष्मण को दी थी जीवन की ये बड़ी सीख

19 अक्टूबर को देश में विजयदशमी का पर्व मनाया जाएगा। विजयदशमी के दिन विष्णुजी के अवतार भगवान राम ने रावण का अंत किया था। रावण एक महान पंडित होने के साथ ही भगवान शिव का परम भक्त भी था और उसे भगवान शिव के कई वरदान प्राप्त थे। युद्ध में भगवान राम के हाथों मरने से पहले रावण ने लक्ष्मण को जीवन की कुछ जरुरी बातें बताई थी। रावण के आखिरी समय की ये ऐसी बातें हैं, जो आज के संदर्भ में भी उतनी ही सटीक हैं जितनी कि पहले…

1-  जब भी कोई शुभ कार्य करना हो तो उसे तुरंत कर लेना चाहिए। रावण ने लक्ष्मण से कहा कि जैसा कि मैंने श्रीराम की शरण में आने में देरी कर दी।

2-  अपने शत्रु को कभी कमजोर मत समझो, जैसा कि मैंने हमेशा राम और हनुमान को समझा।

3-  अपने जीवन का कोई राज हो तो उसे किसी को भी नहीं बताना चाहिए, क्योंकि विभीषण रावण की मृत्यु का राज जानते थे।

4-  अपने आसपास या साथ में काम करने वाले लोगों और भाई से कभी भी दुश्मनी नहीं करनी चाहिए। ये कभी भी भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

5-  हमेशा उस व्यक्ति पर भरोसा करो जो आपकी आलोचना करता हो।

6-  हमेशा विजेता मानने की गलती नहीं करनी चाहिए भले ही हर बार आपकी जीत होती रहे।

विजयादशमी 2018 : जानें राम की शक्ति पूजा का रहस्य
दशहरा पर्व: इन चौपाइयों से जानें भगवान राम का चरित्र-स्वभाव

Check Also

महालक्ष्मी प्रार्थना : शरद पूर्णिमा पर वैभव, सौभाग्य, आरोग्य, ऐश्वर्य और सफलता देगा स्तोत्र

समस्त ऐश्वर्यों की अधिष्ठात्री और अपार धन सम्पत्तियों को देने वाली महालक्ष्मी की आराधना हर …