बुधवार को गणपति पूजन का है विधान

इच्‍छापूर्ण करते हैं श्री गणेश

विघ्नहर्ता के नाम से पूज्‍य गणेश भगवान की पूजा बुधवार के दिन करने से सारी मनोकामनायें पूरी हो जाती है। ऐसे में कुछ सरल उपाय जान लेना चाहिए जिससे गणपति प्रसन्‍न हो सकते हैं। इसके लिए आप एक एक करके नीचे लिखे पायदानों का पालन करते हुए गणेश जी की पूजा करें। 

नंबर 1- गणेश जी की पूजा में सबसे पहले उन्‍हें पहले रोली और लाल सिंदूर को तिलक करें। 

नंबर 2- गणपति का पूजन दूर्वा से करें। 

नंबर 3- शनि की आराधना करने से भी भगवान गणेश बहुत खुश होते हैं। 

नंबर 4-  गणेश जी के समक्ष घी के दिये जलाने पर उनकी हमेशा कृपा होती है।

नंबर 5- पूजा करने के लिए अखंडित चावल का ही प्रयोग करें। 

नंबर 6- शास्त्रों में कहा गया है कि गणपति जी के पीठ का दर्शन नहीं करना चाहिए, क्‍योंकि उनकी पीठ में दरिद्रता का निवास होता है।

नंबर 7- पान के पत्‍ते पर स्वास्तिक बनाकर गणेश जी पर अर्पित करें। 

नंबर 8- गणेश जी पर मक्के के दाने चढ़ाने से भी वे प्रसन्‍न होते हैं। इससे अन्न,धन की कभी कमी नहीं होगी।

नंबर 9- गणपति को मोदक बेहद पसंद है इसलिए उनको भोग लगाना बहुत शुभ माना जाता है। अत उन्‍हें इनका भोग भी जरूर लगायें।

नंबर 10- गणेश जी को भोग लगाते समय तुलसी दल को प्रयोग न करें। वे इससे प्रसन्‍न नहीं होते। 

सीता को रावण की चंगुल से छुड़ाने के बाद यहां आए थे श्रीराम
प्रदोष व्रत की पौराणिक कथा

Check Also

यह होता है मूर्ति खण्डित होने का मतलब,जानिए उसके बाद क्या करना चाहिए

बहुत से लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि मूर्ति खण्डित हो गई …