नर्क में हर गलत काम का मिलता है भयानक फल

हम सभी जानते हैं कि मरने के बाद या तो स्वर्ग मिलता है या नर्क. ऐसे में कहते हैं कि अगर इंसान किसी का भला करता है तो उसे स्वर्ग में भेजा जाता है वहीं अगर व्यक्ति किसी को प्रताड़ित करता है तो उसकी सजा उसे नर्क में जरुर मिलती है और नर्क में उसके साथ वह सब होता है जो वह सोच भी नहीं सकता है. जी हाँ, हिन्दू धर्म के साथ ही अन्य धर्मों की मान्यता है कि मौत के बाद का सफ़र इंसान की आत्मा तय करती है, जहां पर उसे उसके कर्मों के हिसाब से फल मिलता है. ऐसे में आज हम आप सभी को बताने जा रहे हैं कि गरुण पुराण में क्या लिखा है कि इंसान के किस तरह के पापों को लेकर नर्क में उसे कैसी यातनाएं दी जाती हैं. आइए जानते हैं.

1. कहते हैं गाय की हत्या करने वालों को महाविची नाम के नर्क में जगह मिलती है जहां हर तरफ खून और लोहे के बड़े-बड़े कांटे चुभोए जाते हैं जिससे वह यातनाएं नहीं झेल पाता है.

2. कहते हैं सूदखोरों और ब्याज का धंधा करने वाले लोगों को बिच्छुओ से भरे नर्क में भेजा जाता है जहाँ उनकी हालत बेकार हो जाती है.

3. कहते हैं जो लोग अपने पितरों का पिंडदान नहीं करते उन्हें लार, मूत्र, और मल जैसी गंदगी वाले नर्क में जगह मिलती है जहाँ उनकी हालत देखने लायक होती ही.

4. कहा जहा है जो ब्राह्मण शराब का सेवन करते हैं उन्हें नर्क में लाख की आग में झोंकते हैं.

5. कहते हैं जो अपने माता-पिता या दोस्तों की हत्या करते हैं उन्हें जौंको से भरे नर्क में भेजा जाता है.

6. ऐसा भी कहते हैं कि जो लोग लड़कियों को बेचने का काम करते हैं उन्हें मुर्दे और कीड़े से भेरे महावत नर्क में भेजा जाता है.

7.वहीं जो लोग दान देने के वादे नहीं निभाते उन्हें अंगारों से भरे नरक में जलाया जाता है.

यहाँ जानिए मोक्षदा एकादशी की व्रत कथा
क्या आप जानते हैं कौन थे लाफिंग बुद्धा?

Check Also

सामने आये कोरोना वायरस का नया लक्षण… अब बुखार-खांसी ही नहीं इसे भी जा सकती है जान…

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया पर जारी है, जिसमें भारत भी है. तेजी से …