इस दिन ‘शंख’ का पूजन करने से बदल जायेंगे आपके भाग्य

भारतीय धार्मिक मान्यताओं में शंख बहुत ज्यादा महत्व रखता है। समुद्र में सीप के माध्यम से मिलने वाला शंख कई तरह के आकार का होता है। जिसका उसके आकार ध्वनि आदि माध्यम से अलग अलग महत्व होता है। किसी भी युद्ध का आह्वान करने के लिए भी यह बजाया जाता है. यही नहीं शंख आपके स्वास्थ के लिए भी लाभदायक है.

आपके पास होने वाली यह घटनाएं देती है भविष्य के संकेत, समझ गए तो होंगे लाभ

स्वास्थ्य लाभ भी होता है 

हम आपको बता दें प्रतिदिन शंख बजाने से स्वास्थ्य लाभ तो होता ही है साथ ही देवीय शक्ति का आवरण हमारे चारों ओर हो जाता है। यह ईश्वर का आह्वान करने के लिए भी बजाया जाता है। यूं तो प्रतिदिन इसका पूजन किया जाता है लेकिन शुक्रवार के दिन इसका पूजन करना विशेष फलदायी होता है। शुक्रवार को दक्षिणावर्ती शंख का पूजन बहुत ही शुभकारक होता है। इसे लक्ष्मीस्वरूप मानकर इसका पूजन किया जाता है।

नए साल के पहले सूर्यग्रहण पर चमकने वाली है इन 4 राशियों की किस्मत

कैसे करें इसकी पूजा 

यदि बात शंख पूजन की करें तो इसके लिए सबसे पहले इसे शुद्ध जल से धोकर इसे साफ करें फिर इसपर कुमकुम और अक्षत अर्पित करें। फिर सुगंधित पुष्प अर्पित कर हाथ जोड़ें। सदैव शंख में जल भरकर रखें और इस जल का सेवन भी करें। घर में और धन वाले स्थान पर इसका जल छिड़कने से विशेष लाभ होता है.यूं तो प्रतिदिन इसका पूजन किया जाता है लेकिन शुक्रवार के दिन इसका पूजन करना विशेष फलदायी होगा.

जानिए मछलियां कैसे बदल सकती हैं आपका भाग्य
यहाँ जानिए मकर संक्रांति का पौराणिक महत्व

Check Also

जानें, सबसे अच्छी पत्नी साबित होती हैं सिर्फ ये राशियों की लड़कियां…

जीवनसाथी चुनने से पहले हर कोई कई चीजों को देखता है शादी की शुरुआत में …