आदि शंकराचार्य जिन्होंने ‘हिंदू’ धर्म को दिखाया नया रास्ता

चार मठों की स्थापना करने वाले जगद्गुरु आदि शंकराचार्य की जयंती आज पूरा सनातन धर्म मना रहा है. उनका जन्‍म आठवीं सदी में भारत के दक्षिणी राज्‍य केरल में हुआ था. शंकराचार्य के पिता की मत्यु उनके बचपन में ही हो गई थी. बचपन से ही शंकराचार्य का रुझान संन्‍यासी जीवन की तरफ था. लेकिन उनके मां नहीं चाहती थीं कि वो संन्यासी जीवन अपनाएं.

किस दिन पड़ेगा कौन सा त्योहार: मई के महीने में
गंगा स्नान के दौरान किन बातों की अनदेखी करने पर पुण्य की जगह मिलता है पाप

Check Also

नवरात्रि माँ के 7वे स्वरूप यानि माँ कालरात्रि की पूजा में इन मंत्रो का करे जाप

नवरात्रि हिंदुओं का पावन त्यौहार माना जाता है और इस त्यौहार पर माँ के हर …