व्रत कथा पढ़ने का महत्व: अहोई अष्टमी

अहोई अष्टमी व्रत कार्तिक कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को रखा जाता है. इस दिन अहोई माता (पार्वती) की पूजा की जाती है. अहोई अष्टमी व्रत की महिमा का जितना वर्णन किया जाय कम है. इस दिन किए उपाय आपकी हर मुश्किल दूर कर सकते हैं.

 

मंदिर को साक्षी मानकर दे चुके 5 बयान: मोदी
गजानन की कृपा से कष्टों का नाश होगा

Check Also

पूजा की थाली में कभी भी नहीं रखने चाहिए ये चीजें, हो सकता है अपशगुन

हमारे हिन्दू धर्म में सुबह-शाम और विभिन्न त्यौहारों पर पूजा-पाठ का विधान है. ऐसा माना …