अपरा एकादशी, पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि: धर्म

ज्येष्ठ मास में कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को अपरा एकादशी के रूप में मनाया जाता है. इस बार अपरा एकादशी 30 मई को है. अपरा एकादशी के दिन अनजाने में हुई गलतियों और पापों को नष्ट के लिए भगवान विष्णु की पूजा अर्चना की जाती है. पद्म पुराण के अनुसार इस एकादशी का व्रत करने से मुनष्‍य भवसागर तर जाता है और उसे प्रेत योनि के कष्‍ट नहीं भुगतने पड़ते.

 

 

 

 

कई शुभ संयोग एक साथ, ज्योतिष नजरिए से खास: शनि जयंती
एकादशी के दिन भूलकर भी ना करें ये काम: देवशयनी

Check Also

अमृत की वर्षा : शरद पूर्णिमा पर चांद की रोशनी से पूरी पृथ्वी जगमगा जाती है

इस वर्ष शरद पूर्णिमा 30 अक्तूबर को मनाई जाएगी। हिंदू पंचांग के अनुसार अश्विन मास …