आज देशभर में मनाया जा रहा रक्षा बंधन का त्योहार, आप अपने ​प्रियजनों को भेजें ये शानदार शुभकामना संदेश

 आज देशभर में भाई-बहन के प्रेम का त्योहार रक्षा बंधन हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। आज के दिन बहनें अपने भाइयों को राखी बांधती हैं और उनसे दक्षिणा में अपनी रक्षा का वचन लेती हैं। लंबे समयके बाद रक्षा बंधन एक विशेष संयोग पर मनाया जाएगा। इससे पहले हमने आपको बताया था कि रक्षा बंधन का ऐसा योग 558 वर्ष बाद बना है। इससे पहले ऐसा योग सन् 1462 में बना था। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि इस बार का भाई-बहन का पवित्र पर्व बेहद खास होगा। इस वर्ष रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि और दीर्घायु आयुष्मान का शुभ संयोग बन रहा है। हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, रक्षाबंधन का त्यौहार श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस दिन बहनें भाइयों की कलाई पर रक्षासूत्र यानी राखी बांधती हैं। वहीं, उनकी लंबी आयु की कामना करती हैं।

इस बार लॉकडाउन और कोरोनावायरस के चलते कई भाई-बहन इस त्यौहार पर एक-साथ नहीं रह पाएंगे। ऐसे में कई लोगों को मैसेजेज से ही काम चलाना पड़ेगा। अगर आप भी अपने भाई-बहन से दूर हैं तो आप उन्हें ये मैसेजेज भेज सकते हैं। आप अपने भाई या बहन को फेसबुक, वॉट्सएप स्टेटस, मैसेज और एफबी मैसेंजर के जरिए शुभकामना का संदेश भेज सकते हैं। हम आपको यहां कुछ शुभकामना मैसेजेज की जानकारी दे रहे हैं जो आप अपने भाई-बहनों को भेज सकते हैं।

Happy RakshaBandhan 2020 Wishes:

1- चंदन का टीका औ रेशम का धागा,

सावन की सुगंध औ बारिश की फुहार,

भाई की उम्मीद और बहन का प्यार,

मुबारक हो रक्षाबंधन का त्यौहार!!

2- साथ पले और साथ बढ़े हैं हम,

खूब मिला बचपन में प्यार,

इसी प्यार को याद दिलाने

आया ये राखी का त्यौहार!!

रक्षाबंधन 2020 की हार्दिक शुभकामनाएं…!!

3- ये लम्हा कुछ खास है,

बहन के हाथों में भाई का हाथ है,

ओ बहना तेरे लिए मेरे पास कुछ खास है,

तेरे सुकून की खातिर मेरी बहना,

तेरा भाई हमेशा तेरे साथ है।

रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएं…

4- रंग बिरंगे मौसम में, सावन की घटा छाई !

खुशियों की सौगात लेकर बहना राखी बांधने आई !!

बहनों के हाथों से सजा आज भाई की कलाई !

सभी देश वासियों को रक्षाबंधन की बधाई…!!

5- राखी का त्योहार आया बहार लाया

आज ये दुआ करते हैं हम

भैया खुश रहो तुम हरदम

रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएं…

जानिए माता लक्ष्मी ने राजा बलि को राखी बांधकर कैसे की थी भगवान विष्णु की रक्षा
हिन्दी पंचांग के अनुसार हर वर्ष भादो मास के कृष्ण पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है कजरी ​तीज का पर्व

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …