आज षटतिला एकादशी है, जानिए शुभ मुहूर्त और राहु काल

पंचांग 7 फरवरी 2021 के अनुसार आज माघ मास की कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि है. राहु काल में शुभ कार्य न करें. आज अभिजीत मुहूर्त है, आज व्याघात योग है. दिशा शूल पश्चिम दिशा है. आइए जानते हैं आज का पंचांग-

 दिनांक: 7 फरवरी 2021

विक्रमी संवत्: 2077
मास अमांत: पौष
मास पूर्णिमांत: माघ

पक्ष: कृष्ण
वार: रविवार
तिथि: एकादशी – 28:49:34 तक
नक्षत्र: ज्येष्ठा – 16:15:13 तक
आज का व्रत और पर्व: षटतिला एकादशी

करण: बव – 17:37:42 तक, बालव – 28:49:34 तक
योग: व्याघात – 13:59:38 तक
सूर्योदय: 07:06:01 AM
सूर्यास्त: 18:04:54 PM
सूर्य राशि: मकर राशि
सूर्य नक्षत्र: उत्तराषाढा

चन्द्रमा: वृश्चिक राशि – 16:15:13 तक
द्रिक ऋतु: शिशिर
वैदिक ऋतु: हेमंत
राहुकाल: 16:42:32 से 18:04:54 तक (इस काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है)

शुभ मुहूर्त का समय – अभिजीत मुहूर्त: 12:13:30 से 12:57:25 तक
दिशा शूल: पश्चिम

अशुभ मुहूर्त का समय –
दुष्टमुहूर्त: 16:37:03 से 17:20:58 तक
कुलिक: 16:37:03 से 17:20:58 तक
कालवेला / अर्द्धयाम: 12:13:30 से 12:57:25 तक

यमघण्ट: 13:41:21 से 14:25:16 तक
कंटक: 10:45:39 से 11:29:34 तक
यमगण्ड: 12:35:28 से 13:57:49 तक
गुलिक काल: 15:20:11 से 16:42:32 तक

षटतिला एकादशी व्रत का शुभ मुहूर्त

7 फरवरी को प्रात: 06:26 बजे से एकादशी तिथि प्रारम्भ
8 फरवरी को प्रात: 04:47 बजे एकादशी तिथि का समापन
एकादशी व्रत पारण समय: 8 फरवरी दोपहर 01:42 से 03:54 पी एम तक
हरि वासर समाप्त होने का समय: 8 फरवरी को प्रात: 10:25 तक

7 फरवरी यानि कल है माघ मास की पहली एकादशी, जानें महत्व और पूजा विधि
अपनी राशि के अनुसार करें दान, नहीं होगी कोई नुकसान

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …