जानिए महाशिवरात्रि, होली के साथ मार्च 2021 में आने वाले हैं व्रत और त्यौहार

अंग्रेजी कैलेंडर के मुताबिक़ साल की शुरुआत जनवरी के महीने से होती है, लेकिन अगर हिंदू पंचांग के बारे में तो बात करें तो इसके अनुसार साल की शुरुआत चैत्र के महीने से होती है। इसी के साथ फाल्गुन मास साल का आखिरी महीना माना जाता है। आप सभी को बता दें कि इस आखिरी फाल्गुन महीने में ही महाशिवरात्रि और होली जैसे त्यौहार मनाये जाते हैं। वहीं हिंदू कैलेंडर के हिसाब से अभी माघ का महीना चल रहा है। यह महीना साल का दूसरा आखिरी महीना माना जाता है। आने वाले 28 फरवरी से फाल्गुन महीना शुरू होने जा रहा है जो 28 मार्च तक चलने वाला है। वैसे इस दौरान मार्च में कई व्रत और त्यौहार आने वाले हैं जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।

मार्च 2021 व्रत एवं त्योहारों की सूची- 

02 मार्च : संकष्टी चतुर्थी।

06 मार्च : जानकी जयंती।

08 मार्च : महर्षि दयानंद सरस्वती जयंती, गुरु रामदास जयंती।

09 मार्च : विजया एकादशी।

10 मार्च : प्रदोष व्रत।

11 मार्च : महाशिवरात्रि।

13 मार्च : फाल्गुन अमावस्या।

14 मार्च : मीन संक्रांति।

15 मार्च : फूलेरा दूज।

17 मार्च : विनायक चतुर्थी।

21 मार्च : होलाष्टक प्रारंभ।

25 मार्च : आमलकी एकादशी।

26 मार्च : प्रदोष व्रत।

28 मार्च : होलिका दहन, फाल्गुन पूर्णिमा।

29 मार्च : होली।

30 मार्च : होली भाई दूज या भातृद्वितीया।

हिंदू कैलेंडर के हिसाब से कब शुरू होगा कौन सा महीना –

पौष : 31 दिसंबर 2020 से 28 जनवरी 2021।

माघ : 29 जनवरी 2021 से 27 फरवरी 2021।

चैत्र : 29 मार्च से 27 अप्रैल 2021।

वैशाख : 28 अप्रैल 26 मई 2021।

ज्येष्ठ : 27 मई से 24 जून 2021।

आषाढ़ : 25 जून से 24 जुलाई 2021।

श्रावण : 25 जुलाई से 22 अगस्त 2021।

भाद्रपद : 23 अगस्त से 20 सितंबर 2021।

आश्विन : 21 सितंबर से 20 अक्तूबर 2021।

कार्तिक : 21 अक्तूबर से 19 नवंबर 2021।

मार्गशीर्ष : 20 नवंबर से 19 दिसंबर 2021।

पौष : 20 दिसंबर 2021 से 17 जनवरी 2022।

कानूनी मामलों को जीतने और किसी को वश में करने के लिए बगलामुखी के इस मन्त्र का करें जाप
ये खास संदेश को भेजकर अपनों को बसंत पंचमी की दें शुभकामनाएं

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …