7 दिनों के सात अलग-अलग तिलक ,क्या आप जानते हैं इनका महत्त्व लगाने का ?

मान्यता के अनुसार सनातन धर्म में तिलक लगाना शुभ माना जाता है. लेकिन क्या आप जानते है सभी देवताओं के दिन पर अलग-अलग तिलक लगाना शुभ होता है. आइए तो जानते है अलग-अलग दिन पर किस तरह से तिलक लगाना चाहिए.

 

सोमवार…

यह दिन भगवान शिव को समर्पित है. मन और मस्तिष्क को शीतल और शांत बनाए रखने के लिए आप सफेद चंदन का तिलक इस दिन लगाएं.

मंगलवार…

मंगलवार का दिन भगवान श्रीराम के परम भक्त श्री हनुमान जी को समर्पित है. इस दिन का स्वामी ग्रह मंगल है. और मंगलवार के दिन लाल चंदन या चमेली के तेल में घुला हुआ सिंदूर का तिलक लगाने से ऊर्जा मिलती है. इसके साथ ही कार्यक्षमता में विकास होता है.

बुधवार..

बुधवार का दिन संसार में प्रथम पूजनीय देवता श्री गणेश जी महाराज का है. साथ ही इस दिन को माँ दुर्गा का दिन भी माना गया है. इस दिन का ग्रह स्वामी बुध ग्रह होता है और इस दिन सूखे सिंदूर का तिलक लगाया जाना चाहिए.

गुरुवार…

बता दें कि गुरुवार को बृहस्पतिवार भी कहा जाता है और इस दिन का स्वामी ग्रह है बृहस्पति ग्रह. अतः आप गुरुवार को हल्दी का पीला तिलक या चन्दन का तिलक जरूर लगाए.

शुक्रवार…

शुक्रवार का दिन माता लक्ष्मीजी को समर्पित है. बता दें कि इस दिन का ग्रह स्वामी शुक्र ग्रह है और इस दिन लाल चंदन का तिलक लगाना लाभकारी होता है. 

शनिवार…

भैरव, शनि और यमराज का दिन शनिवार को माना जाता है. अतः इस दिन भस्म या लाल चंदन का तिलक लगाना उचित साबित होगा. 

रविवार…

बता दें कि यह दिन भगवान सूर्य का दिन है. इस दिन के ग्रह स्वामी सूर्य होता है. अतः इस दिन लाल चंदन का तिलक लगाना चाहिए. 

 

कौन थे भगवान महावीर -जानिए , आज है महावीर जयंती...
हाथ में कलावा क्यों बांधते हैं , यह पंरपरा कब से चली आ रही है जानिए?

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …