चाणक्य नीति

ऐसे लोगों से बचे जो आपके मुँह पर तो मीठी बातें करते हैंलेकिन आपके पीठ पीछे आपको बर्बाद करने की योजना बनाते हैऐसा करने वाले तो उस विष के घड़े के समान है जिसकी उपरी सतह दूध से भरी है।

प्रेरक-प्रसंग: जब क्रोध बना विनाश का कारण
गणेश चतुर्थी के दिन जरूर सुने उनकी जन्‍म कथा

Check Also

4 जुलाई यानी आज से है आषाढ़ पूर्णिमा व्रत, जाने कथा और पूजा विधि

हिंदी पंचांग के अनुसार, वर्ष के प्रत्येक महीने में पूर्णिमा अथवा चतुर्दशी के दिन पूर्णिमा …