इन लोगो के घर में भोजन करना मुसिबत को करता है आमंत्रित

अंजाने में हम ऐसी कई गलतियां कर बैठते हैं जिसका हमें अंदाजा भी नहीं होता लेकिन यही गलतियां शास्त्र के अनुसार बहुत मायने रखती है। अपने जीवन में हर इंसान बस यही सोंचता है कि कंही गलती से उससे कोई पाप न हो जाए। और इसी वजह से वह हर कदम फूंक-फूंक कर रखता है। लेकिन जब हम किसी मेहमान नमाजी में जाते हैं तो बिना सोचे समझे उनके यहां खाना खा लेते हैं और फिर आपकी यही गलती आपको पाप का भागीदार भी बना सकती है। जी हां आज हम आपको कुछ इसी विषय पर बताने वाले हैं जिसमें हम यह जानेंगे कि आप दूसरों के घर पर खाना खाने मात्र से भी पाप का भागीदार बन सकते हो। तो चलिए जानते हैं कि किस प्रकार के लोगों के घर खाना खाने से आप पाप के हिस्सेदार कहलाएंगे।

नशे के कारण कई लोगों के घर बर्बाद हो जाते हैं। इसका दोष नशा बेचने वालों को भी लगता है। ऐसे लोगों के यहां भोजन करने पर उनके पाप का असर हमारे जीवन पर भी होता है। ऐसे में इन लोगों के घर भोजन करने से बचना चाहिए। 

जो स्त्री स्वेच्छा से पूरी तरह अधार्मिक आचरण करती हो और चरित्रहीन हो या व्याकभिचारिणी हो। गरुड़ पुराण में लिखा है कि जो व्यक्ति ऐसी स्त्री के यहां भोजन करता है, वह भी उसके पापों का फल प्राप्त करता है। 

न्यायालय में जो अपराधी सिद्ध हो जाए तो उसके घर का भोजन नहीं करना चाहिए। गरुड़ पुराण के अनुसार चोर के यहां का भोजन करने पर उसके पापों का असर हमारे जीवन पर भी हो सकता है। 

किन्नरों को दान देने का विशेष विधान बताया गया है। गरुड़ पुराण में बताया गया है कि इन्हें दान देना चाहिए, लेकिन इनके यहां भोजन नहीं करना चाहिए। ऐसा होने पर अगले जन्म़ तक कष्ट मिलने तय होते हैं। 

जो लोग दूसरों की मजबूरी का फायदा उठाते हुए अनुचित रूप से अत्यधिक ब्याज प्राप्त करते हैं, गरुड़ पुराण के अनुसार उनके घर पर भी भोजन नहीं करना चाहिए।

सुबह-शाम करें ये काम सकारात्मक ऊर्जा का होगा संचार
आचार्य चाणक्य ने कहा है जानवरों से सीखनी चाहिए यह बातें

Check Also

क्या सच में श्री कृष्ण की थी 16108 पत्नियां, जानिए पौराणिक कथा

दुनियाभर में श्री कृष्ण की ख्याति है. श्री कृष्ण के जन्मोत्सव को दुनियाभर में जन्माष्टमी …