अगर आपके घर में बिल्ली करती है मल-त्याग तो आपके लिए है खुशखबरी

हम सभी इस बात से वाकिफ हैं कि अक्सर ही घर-आंगन में पक्षी आ जाते हैं और बैठ जाते हैं. ऐसे में हममे से बहुत से लोग केवल उनकी चहचाहट सुनने के बाद ही खुश हो जाते हैं और कई लोग उन्हें दाना पानी देते हैं. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं पक्षियों की बोली के पीछे छुपे संकेत के बारे में. जी दराल पक्षियों की बोली में बहुत से ऐसे संकेत छुपे होते हैं जो भविष्‍य की ओर इशारा करते हैं. ऐसे में यह पक्षी शुभ या अशुभ जो भी होना है उसके बारे में पहले ही संकेत देने शुरू कर देते हैं. तो आइए आज जानते हैं कि कैसे क्या देते हैं पक्षी संकेत.

# कहा जाता है घर की मुंडेर पर यदि कोयल या सोन चिरैय्या बैठकर मधुर स्वर करती है तो घर के स्वामी का भाग्योदय होता है, क्योंकि जिस घर की छत या मुंडेर पर कोयल या सोन चिरैय्या चहचहाए तो वहां निश्चित ही धन वृद्धि होना होती है.

# कहा जाता है अगर अचानक घर के दरवाजे के अंदर आकर गाय रम्भाना शुरू कर दे तो यह सौभाग्य का सूचक है ओर अगर आपके घर के आंगन में बन्दर आम की गुठली कहीं से लाकर डाल दे तो आपको खूब लाभ होने वाला है.

# कहते हैं अगर घर के मुख्य द्वार के पास कौवा सुबह-सुबह बोले तो समझ लेना चाहिए कि घर कोई आने वाला है ओर अगर दोपहर को कौवा बाले तो कोई अतिथि आपसे मिलने आ सकता है.

# कहा जाता है अगर तीतर घर के दक्षिण दिशा में आवाज करता है तो अचानक सुख-सौभाग्य और धन प्राप्ति के योग बन जाते हैं ओर कोई पक्षी अगर आपके घर में चांदी का टुकड़ा या चांदी की अन्य चीज लाकर डाल दे तो आपको कहीं से अचानक लक्ष्मी की प्राप्ति होने वाली है.

# इसी के साथ अगर घर में, छत या किसी कमरें में बिल्ली प्रसव करती है तो समझ लीजिए कि धन-संपदा मिलने वाली है ओर जिस घर में प्राय:बिल्लियां आकर मल त्याग कर जाती हैं वहां कुछ शुभ होने के लक्षण प्रकट होते हैं और जहां बिल्लियां प्राय:लड़ती रहती हैं तो यह अशुभ होता है.

13 सितंबर से शुरू हो रहे हैं श्राद्ध पितृ पक्ष, जानिए कब होंगे खत्म
चाणक्य नीति

Check Also

क्या सच में श्री कृष्ण की थी 16108 पत्नियां, जानिए पौराणिक कथा

दुनियाभर में श्री कृष्ण की ख्याति है. श्री कृष्ण के जन्मोत्सव को दुनियाभर में जन्माष्टमी …