आज दशहरे के दिन करें बस इस एक मंत्र का जाप, होगा धन का अपार लाभ…

दशहरा  हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। अश्विन (क्वार) मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को इसका आयोजन होता है। भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था तथा देवी दुर्गा ने नौ रात्रि एवं दस दिन के युद्ध के उपरान्त महिषासुर पर विजय प्राप्त किया था। इसे असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसीलिये इस दशमी को ‘विजयादशमी’ के नाम से जाना जाता है। इस दिन लोग शस्त्र-पूजा करते हैं और नया कार्य प्रारम्भ करते हैं। प्राचीन काल में राजा लोग इस दिन विजय की प्रार्थना कर रण-यात्रा के लिए प्रस्थान करते थे। इस दिन जगह-जगह मेले लगते हैं। रामलीला का आयोजन होता है। रावण का विशाल पुतला बनाकर उसे जलाया जाता है। दशहरा अथवा विजयदशमी भगवान राम की विजय के रूप में मनाया जाए अथवा दुर्गा पूजा के रूप में, दोनों ही रूपों में यह शक्ति-पूजा का पर्व है, शस्त्र पूजन की तिथि है। हर्ष और उल्लास तथा विजय का पर्व है। अगर इस दिन कुछ विशेष प्रयोग किए जाएं तो आपको अपार धन की प्राप्ति हो सकती है।

दशहरे पर करें किसकी पूजा और क्या मिलेगा लाभ?

– दशहरा के दिन महिषासुर मर्दिनी मां दुर्गा और भगवान राम की पूजा करनी चाहिए इससे सम्पूर्ण बाधाओं का नाश होगा और जीवन में विजय श्री प्राप्त होगी

– दशहरा के दिन अस्त्र शस्त्र की पूजा करने से उस अस्त्र-शस्त्र से नुकसान नहीं होता

– दशहरा के दिन मां की पूजा करके आप किसी भी नए कार्य की शुरुआत कर सकते हैं

– नवग्रहों को नियंत्रित करने के लिए भी दशहरे की पूजा अदभुत होती है

विजय प्राप्ति के लिए किस मंत्र का जाप करें?

“श्रियं रामं , जयं रामं, द्विर्जयम राममीरयेत।
त्रयोदशाक्षरो मन्त्रः, सर्वसिद्धिकरः स्थितः।।”

धन प्राप्ति के लिए दशहरे के दिन क्या करें

नीलकंठ पक्षी का उपाय

दशहरे के दिन नीलकंठ पक्षी का दर्शन बहुत ही शुभ माना जाता है। माना जाता है कि इस दिन यह पक्षी अगर किसी को दिख जाए तो आने वाला साल खुशहाली भरा होता है।

गोमती चक्र का उपाय

आपको लगातार आर्थिक हानि उठानी पड़ रही है या पैसा रुक गया हो, तो दशहरे को 11 गोमती चक्रों का हल्दी से तिलक करें और शंकर जी का ध्यान कर पीले कपड़ें में बांधकर पूरे घर में घुमाकर किसी बहते हुए पानी में प्रवाहित कर दें।

शमी के वृक्ष का उपाय

दशहरा के दिन शमी के वृक्ष की पूजा करें। अगर संभव हो तो इस दिन अपने घर में शमी के पेड़ लगाएं और उन्हें नियमित दीप दिखाएं। मान्यता है कि दशहरा के दिन कुबेर ने राजा रघु को स्वर्ण मुद्राएं देने के लिए शमी के पत्तों को सोने का बना दिया था। तभी से शमी को सोना देने वाला पेड़ माना जाता है।

रावण दहन के बाद बची हुई लकड़ियां का उपाय

रावण दहन के बाद बची हुई लकड़ियां मिल जाएं तो उसे घर में लाकर कहीं सुरक्षित रख दें। इससे नकारात्मक शक्तियों का घर में प्रवेश नहीं होता है।

बेसन के लड्डू का उपाय

दशहरे के दिन से शुरू करके लगातार 43 दिन तक बेसन के लड्डू कुत्ते को खिलाने चाहिए। इससे धन लाभ के योग बनते है और धन में बरकत होने लगती हैं।

लाल रंग के नए कपड़े का उपाय

दशहरे के दिन लाल रंग के नए कपड़े या रुमाल से मां दुर्गा के चरणों को पोंछ कर इन्हें तिजोरी या अलमारी में रख दें। इससे घर में बरकत बनी रहती है।

श्री कृष्ण : मेरे ये 7 वचन याद रखना...तुम्हारे सारे दर्द मैं ले लूंगा
जानें क्या होता है अगर दशहरे पर दिख जाए नीलकंठ पक्षी

Check Also

जानें, सबसे अच्छी पत्नी साबित होती हैं सिर्फ ये राशियों की लड़कियां…

जीवनसाथी चुनने से पहले हर कोई कई चीजों को देखता है शादी की शुरुआत में …