महाशिवरात्रि के दिन भगवान शिव का ऐसे करें अभिषेक, धन और संतान की होगी प्राप्ति

भगवान भोलेनाथ बड़े ही दयालु माने जाते हैं। इसके अलावा जो कोई भी सच्चे मन से भगवान शिव की आराधना करता है, वही उसकी मनोकामना जरूर पूरी होती है। इसके साथ ही महाशिवरात्रि भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रमुख पर्व है, जो आने ही वाला है। वही यह एक बड़ा ही पवित्र और महत्वपूर्ण अवसर होता है भगवान भोलेनाथ को अपनी आराधना से प्रसन्न करके उनका आशीर्वाद प्राप्त करने का और अपनी जिंदगी को खुशियों से भर लेने का।महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान भोलेनाथ का भक्तों द्वारा अभिषेक करने और उनकी विशेष पूजा-अर्चना करने की परंपरा आदिकाल से चली आ रही है। ऐसा कहा जाता है कि भगवान शिव को अभिषेक खास तौर पर पसंद है। महाशिवरात्रि का त्योहार 21 फरवरी को है ओर इसकी तैयारी भक्तों ने आरंभ भी कर दी ही। इसके साथ ही विधि-विधान से महाशिवरात्रि के अवसर पर पूजा करने का बहुत महत्व है, क्योंकि भगवान शिव की आराधना के इस खास मौके पर सच्ची श्रद्धा और सच्चे मन से उनकी पूजा कर ली गयी तो समझ लेना चाहिये कि बेड़ा पार है। इससे भक्तों की अभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं। इसके अलावा  महाशिवरात्रि इसलिए खास है, क्योंकि यही वह दिन है, जब भगवान शंकर की शादी हुई थी।

अभिषेक के प्रकार
भगवान भोलेनाथ की पूजा-अर्चना करने के महाशिवरात्रि के अवसर पर कई तौर-तरीके प्रचलित हैं। इसके लिए कई तरह के विधि-विधान भी बनाये गए हैं। ऐसी मान्यता है कि इनके मुताबिक ही भोलेनाथ की पूजा महाशिवरात्रि में की जानी चाहिए, क्योंकि इससे न केवल भगवान शिव बहुत खुश होते हैं, बल्कि इससे भक्त की मनोकामना भी वे पूरी करते हैं। वही भगवान शिव का महाशिवरात्रि के दिन भक्त कई तरह से अपनी मनोकामनाओं के मुताबिक अभिषेक कर सकते हैं और बाबा भोलेनाथ की कृपा प्राप्त कर अपने व अपने परिवार के जीवन को धन्य कर सकते हैं। आपको इस बात की जानकारी होनी बहुत जरूरी है कि किस प्रकार की मनोकामना के लिए आपको भगवान शंकर का किस तरह का अभिषेक इस खास महाशिवरात्रि के मौके पर करना चाहिए।

ब्याह करने के लिए
यदि आप उन लोगों में से एक हैं जो अपनी शादी न होने की वजह से बेहद परेशान हैं और लाख प्रयास करने पर भी आपका ब्याह होने से रह जा रहा है तो आपको निराशा के भंवर में और गोते लगाने की जरूरत नहीं है।वही इसके अलावा मन-ही-मन इसकी वजह से कुंठित होने से अच्छा है कि इस महाशिवरात्रि के पवित्र अवसर पर आप भगवान भोलेनाथ का अभिषेक केसर से करें और इस दौरान अपने मन में अपने विवाह की मनोकामना भी रखें। फिर देखिए कितनी जल्दी आपके घर में शहनाई की गूंज सुनाई देती है।

बिगड़े काम बनाने के लिए
किसी भी तरह का आपका काम यदि अटक जा रहा है। किसी भी कार्य में आपके बार-बार अड़चन आ रही है और वह पूरा नहीं हो पा रहा है, हालाँकि प्रयास में आपकी अपनी ओर से कोई कमी नहीं है, तो ऐसे में आपको इस महाशिवरात्रि के पुण्य अवसर का लाभ उठाते हुए भगवान शिव का अभिषेक गन्ने के रस से करना चाहिए। इसके साथ ही अपने मन में काम के शीघ्र पूरा होने की कामना करें। फिर देखिए बाबा भोले की कृपा से कैसे आपके बिगड़े काम भी बनने लग जाते हैं।

कर्ज और पाप से छुटकारा पाने के लिए
यदि आप भारी कर्ज में डूब गए हैं। वही इसके साथ ही आपको यह भी महसूस हो रहा है कि आपने अपनी जिंदगी में जाने-अनजाने कोई पाप के भागी होने वाले काम भी किये हैं, तो भी भगवान शंकर की कृपा से आपको कर्ज से मुक्ति मिल सकती है और आपके पाप भी धुल सकते हैं।वही इसके लिए आपको भगवान भोलेनाथ का अभिषेक शहद से महाशिवरात्रि के इस मौके पर करना होगा।

बीमारियों से निजात पाने के लिए
बीमारियां यदि आपका पीछा नहीं छोड़ रही हैं और लगातार आप अस्वस्थ रह रहे हैं तो इसके लिए भी एक आसान सा उपाय है। इसके लिए आपको भगवान शिव की कृपा पाने के लिए महाशिवरात्रि के दिन बाबा भोलेनाथ का अभिषेक दूध में पानी मिलाकर करना होगा। इससे स्वास्थ्य में सुधार आने लग सकता है।

संतान और समृद्धि के लिए
संतान सुख से यदि आप अब तक वंचित हैं तो इसके लिए आपको महाशिवरात्रि के दिन पूरी श्रद्धा से शिवलिंग का कच्चे दूध से अभिषेक करना चाहिए।इसके अलावा बाबा भोलेनाथ की कृपा से जल्द ही आपके घर में बच्चे की किलकारी गूंज उठेगी। धन और आयु में वृद्धि की चाहत रखते हैं तो महाशिवरात्रि के अवसर पर गाय के घी से भगवान शिव का अभिषेक करें। इससे अवश्य लाभ मिलता है।

भगवान गणेश की पूजा करने से दूर होंगे सभी दुःख दर्द
इस वजह से बाघ की खाल पहनते हैं भोलेनाथ

Check Also

जीवन में सुख समृद्धि लेकर आता है नवरात्रि का पर्व

धार्मिक परम्पराओं के चलते नवरात्रि पर्व जो की 17 अक्टूबर 2020 से प्रारम्भ होने जा रहा …