सावन के माह में भूल से भी न करें ये कार्य, जानें किन कार्यो से प्रसन्न होंगे भगवान शिव

आषाढ़ माह की समाप्ति के साथ सावन माह की शुरुआत हो चुकी है। सावन की इस बार एक ख़ास बात यह है कि यह माह सोमवार 6 जुलाई से शुरू हुआ है और 3 अगस्त सोमवार को ही समाप्त होग। सावन के पवित्र माह में हमें कुछ काम के करने और कुछ काम के नहीं करने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। तो आइए फिर जानते है ऐसे ही कुछ कामों के बारे में।

– सावन का माह शिव जी को अतिप्रिय है। अतः आप इस माह में शिव जी की पूजा-अर्चना करें। सावन सोमवार के दिन विशेष रूप से भगवान शिव का जलाभिषेक करें।

– मिट्टी से निर्मित शिवलिंग का भी नियमित पूजन करते रहे। ध्यान रहे मिट्टी से निर्मित शिवलिंग की ऊंचाई 12 अंगुल से अधिक न हो।

– सावन माह में दूध का दान उत्तम माना गया है।

– सावन माह में यदि आपके घर के समख कोई सांड आ जाए तो उसका सम्मान करें और साथ ही उसे कुछ खाने को भी दें।

सावन के माह में ये काम बिलकुल न करें 

– पवित्र सावन माह में दिन में सोना नहीं चाहिए। यह आलस्य की निशानी है।

– इस दौरान शरीर पर भी तेल नहीं लगना चाहिए।

– कहा जाता है कि सावन माह में बैंगन का सेवन नहीं करना चाहिए। बैंगन को अशुद्ध श्रेणी में रखा गया है।

– ध्यान रहें कि भगवान शिव को केतकी का फूल इस दौरान गलती से भी अर्पित न करें।

– सावन माह में पूजा के दौरान शिवलिंग पर हल्दी चढाने से बचे।

– सावन के महीने में दूध के सेवन से दूरी बनाना भी बेहतर होगा।

श्रावण माह में जरूर सुनना चाहिए ये दो प्रचलित पौराणिक कथाएं
युधिष्ठिर को जुआ खेलने से रोक सकते थे श्रीकृष्ण लेकिन...

Check Also

चैत्र नवरात्रि की रामनवमी के अगले दिन है कामदा एकादशी, बन रहें हैं पूजा के सात शुभ मुहूर्त

सनातन धर्म में एकादशी का बहुत ही महत्त्वपूर्ण स्थान है. मान्यता है कि एकादशी का …