इन 6 कार्यों को करते समय दिशाओं का जरुर ख्याल, मिलेगी सफलता और होगा धन लाभ

वैदिक भारतीय वास्तु शास्त्र के अनुसार प्रत्येक दिशा का अपना विशेष महत्व होता है. अगर कोई व्यक्ति अपने घर, दुकान या ऑफिस में वास्तु शास्त्र में बताए गए दिशाओं के मुताबिक कार्य करता है तो उस व्यक्ति को अपने कार्य में सफलता मिलती है और धन लाभ भी होता है. आइए जानते हैं कि वास्तु और ज्योतिष का ख्याल रखते हुए अपने लिए सही दिशा का निर्धारण कैसे किया जाय जिससे दुकान, कैरियर और धन के मामले में लाभ मिल सके.

  • वास्तुशास्त्र के मुताबिक उत्तर की दिशा को सफलता की दिशा माना जाता है. इसलिए किसी भी नए कार्य को शुरू करते समय व्यक्ति को अपना मुंह उत्तर दिशा की तरफ रखना चाहिए.
  • घर में पूजा घर को पॉजिटिव एनर्जी का केंद्र बिंदु माना जाता है. इसलिए पूजा करते समय व्यक्ति को अपना मुंह पश्चिम दिशा की तरफ रखना चाहिए. और अगर ऐसा संभव न हो तो पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके भी पूजा किया जा सकता है.
  • वास्तु शास्त्र के अनुसार पूर्व की दिशा बच्चों की पढ़ाई के लिए शुभ होती है. ऐसा माना जाता है कि जो बच्चे पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके पढ़ाई करते हैं उन्हें सफलता जरूर मिलती है.
  • वास्तु शास्त्र के मुताबिक दुकान के मालिक अथवा ऑफिस के बॉस को अपने दुकान अथवा ऑफिस में हमेशा उत्तर दिशा की तरफ मुंह करके बैठना चाहिए. ऐसा करने से कार्य में सफलता मिलती है.
  • घर के किचेन में खाना बनाते समय भी दिशा का ख्याल रखना चाहिए. वास्तु के मुताबिक किचेन में खाना बनाने वाले का मुंह पूर्व अथवा उत्तर-पूर्व की तरफ रहना चाहिए.
  • खाना खाते समय भी दिशा का ख्याल रखना चाहिए. ऐसा करने से भोजन करने वाले को भोजन की पूरी ऊर्जा प्राप्त होती है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक खाना खाते समय व्यक्ति का मुंह पूर्व या फिर उत्तर दिशा की तरफ होना चाहिए.
जानिए आज का पंचांग, शुभ और अशुभ मुहूर्त
एकादशी के दिन विष्णु भगवान के इन मन्त्रों का जरुर करें जाप

Check Also

वास्तु शास्त्र: यदि आपके बच्चे को बार -बार लगती है चोट, तो करें यह उपाय

चंचल होना बच्चों का एक स्वाभिक गुण होता है. परन्तु कुछ बच्चे इस चंचलता के …