सफलता का अचूक मंत्र है गरुड़ पुराण के ये 6 उपाय

1-1450595709-300x214गरुड़ पुराण में छुपे हैं सफलता के कई रहस्य, जिससे कोई बुलंदियों को पा सकता है। इसमें वर्णित एक श्लोक के अनुसार व्यक्ति अगर इन 6 चीजों की पूजा करे तो वह सबकुछ पा सकता है।

विष्णुरेकादशी गंगा तुलसीविप्रधेवनः।

असारे दुर्गसंसारे षट्पदी मुक्तिदायिनी।।

1. भगवान विष्णु

गरुड़ पुराण के बताता है कि भगवान विष्णु अपने भक्तों के दुखों को खत्म करके उसे सुख और शांति देते हैं। इसलिए भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करनी चाहिए। इसके लिए स्नान आदि कर खुद को पहले शुद्ध कर लें। 

2. एकादशी-व्रत

एकादशी व्रत को ग्रंथों और पुराणों में श्रेष्ठ बताया गया है। इनके अनुसार जो व्यक्ति एकादशी का व्रत रखता है। उसे इसका निश्चित लाभ मिलता है। ध्यान दे की इस दिन जुआ खेलना शराब पीना आदी न करें। यह काम एकादशी के दिन नहिं करना चाहिए।

3. गंगा नदी

सभी नदियों में श्रेष्ठ श्री गंगा जी को देवी माना गया है। इसलिए इनकी पूजा करना चाहिए। किसी रुप में इनका अपमान आपको भारी पड़ सकता है। ये सफलता की जननी हैं।

4. तुलसी

तुलसी त्याग की प्रतिक हैं। इन्हें अपने घर में स्थान देने तथा जल देने से अवरुद्ध विकास भी खुल जाते हैं। इन्हे भगवान के प्रशाद में सेवन करने से सारे विकार दूर होते हैं। विष्णु जी की पूजा के पश्चात इनकी पुजा करने से बहुत फल मिलता है।

5. पंडित या ज्ञानी

योग्य ज्ञानी मनुष्यों का हमेशा सम्मान करना चाहिए। इनका मजाक उडाना सर्वथा अनुचित है। जो मनुष्य ज्ञानी लोगों का सम्मन करता है। वह स्वत:  सफलता की सीढ़ायां चढ़ जाता है।

6. गाय

गाय को हिन्दू धर्म में सबसे पूजनीय माना गया है। गाय में सभी देवता निवाश करते हैं। जो मनुष्य गाय को पूजता है। उसकी  सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

यदि आत्मज्ञान प्राप्त हो जाए तो इसे लोगों में बांटें
राम की नगरी में बनेगी ऐसी इमारत, समंदर पार से भी आएंगे सैलानी

Check Also

श्री राम की यह आरती देगी आपको कीर्ति

आरती आपके द्वारा की गई पूजा में आई छोटी से छोटी कमी को दूर कर …