वसंत पंचमी: ऐसे सरस्वती का पूजन, सब काम हो जाएंगे सिद्ध

images-8वसंत पंचमी के दिन विधिपूर्वक कलश की स्थापना कर एवं पीले रंग के वस्त्र धारण कर भगवान गणेश, सूर्यदेव, भगवान विष्णु, शिवजी और सरस्वती देवी की पूजा-अर्चना की जाती है तथा पीले रंग के चावल अथवा पीले रंग के खाद्य पदार्थों का प्रसाद लगाकर वितरित किया जाता है। मां सरस्वती के पूजन की अनेक विधियां हैं। वे भक्त की श्रद्धा और भक्ति देखती हैं एवं उसी के अनुसार फल देती हैं। 
कृष्ण के हाथों पर क्यों हुआ था कर्ण का अंतिम संस्कार?
शिवपुराण के संकेत बताते हैं कि मौत आने वाली है…

Check Also

आखिर भगवान राम को उनके ही भक्त ने कैसे हराया

पुराणों में इस कथा का उल्लेख है कि अश्वमेघ यज्ञ के पूर्ण होने के पश्चात …