भजन, जो मन मोह लेंगे आपका: सूरदास

हिंदी साहित्य के सूरज माने जाने वाले ब्रजभाषा के श्रेष्ठ कवि सूरदास की आज जयंती है. सूरदास ने वात्सल्य भाव से लेकर कृष्ण लीला तक पर कई सुंदर पद लिखे. ऐसा कहा जाता है कि 15वीं शताब्दी में सूरदास अपने भजनों से चरवाहों  को लुभाते आज भी उनकी भक्ति के लबरेज रचनाओं से हिंदी साहित्य जगमगा रहा है. सूरदास ने अनेक ग्रंथों की रचना की. काशी नागरीप्रचारिणी सभा के खोज विवरण की रिपोर्ट के मुताबिक़, सूरदास के नाम से 25 ग्रंथों की सूची उपलब्ध है

करें मां बगलामुखी की पूजा, शत्रुओं से मिलेगी मुक्ति
मंदिर पहुंचीं प्रियंका, शिवभक्त रावण से जुड़ा है इतिहास: दूधेश्‍वर नाथ मंदिर

Check Also

बड़ी खबर : मां शूलिनी के दरबार में महिला IAS अफसर को हवन यज्ञ करने से रोका गया

दुर्गा अष्टमी पर हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित मां शूलिनी के दरबार में …