शिव जी को खुश करने के लिए इस मुहूर्त में करें पूजा

आज वैशाख कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि है. आज के दिन लोग भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए प्रदोष व्रत रखते हैं. हिंदू पंचांग के अनुसार प्रदोष व्रत प्रत्येक माह की त्रयोदशी तिथि के दिन किया जाता है. शास्त्रों की मानें तो प्रदोष व्रत को करने से व्यक्ति को पुण्य की प्राप्ति होती है. प्रदोष व्रत भगवान शिव की कृपा पाने के लिए सबसे बड़ा दिन माना जाता है. शास्त्रों में प्रदोष व्रत को अन्य व्रतों से श्रेष्ठ और महान फल देने वाला बताया गया है. कहा जाता है कि जो भी व्यक्ति इस दिन व्रत रखता है उसके जीवन से सभी कष्ट दूर हो जाते हैं.

शनि के प्रकोप से चाहते बचना तो ऐसे करें कालभैरव की पूजा
मोहिनी एकादशी का व्रत क्या है इसका महत्व

Check Also

भगवान स्वामीनारायण का अक्षरधाम मंदिर गुजरात के प्रमुख सांस्कृतिक केंद्रों में से एक: धर्म

अहमदाबाद के गांधीनगर इलाके में स्थित अक्षरधाम मंदिर गुजरात के प्रमुख सांस्कृतिक केंद्रों में से एक …