भारत का द्वारका, 5000 साल का इतिहास: गुरुवायूर मंदिर

गुरुवायुरुप्पन को भगवान विष्णु का ही रूप माना जाता है. इसी वजह से इस मंदिर को गुरुवायूर श्रीकृष्ण मंदिर भी कहते हैं. केरल के इस पवित्र स्थान को दक्षिण भारत का द्वारका भी कहा जाता है, जहां कृष्ण का जन्म हुआ था.

'फ्राइडे मस्जिद' का संरक्षण करेगा भारत: मोदी
बालाजी में मोदी: भगवान वेंकटेश्वर की पूजा होती

Check Also

कुंवारी लडकियां कभी भूल से भी न छुए शिवलिंग, वरना हो जाएगा ये बड़ा अनर्थ

हमारे हिन्दू धर्म में शिवलिंग को छूने और उसकी पूजा करने का अधिकार केवल आदमियों के …