आखिर क्यों द्रोपदी को कहा जाता था सैरंध्री, जानिए उनके पांच पुत्रों के नाम

आप सभी को बता दें कि द्रौपदी को ‘द्रौपदी’ इसलिए कहते हैं क्योंकि वह राजा द्रुपद की बेटी थी. इसी के साथ उन्हें ‘पांचाली’ भी कहते हैं और वह इस कारण से क्योंकि द्रुपद पांचाल देश के राजा थे. कहा जाता है उनका एक नाम कृष्णा भी था, क्योंकि वे कृष्ण की सखी थी. वहीं उसके बाद द्रौपदी एक नाम सैरंध्री से भी जानी जाती थीं.

आपको बता दें कि ‘सैरंध्री’ का अर्थ होता है अपने पति के अलावा अन्य पुरुषों के साथ रमण करने वाली. जी हाँ, कहा जाता है द्रौपदी के पांच पुत्र थे, द्रौपदी ने पांच पांडवों से विवाह किया था और समय-समय पर वह पांचों के साथ रमण करती थी. इसी के साथ द्रौपदी ने एक-एक साल के गेप से पांचों पांडव के एक-एक पुत्र को जन्म दिया था और इसी तरह द्रौपदी के पांच पुत्र थे, तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं द्रौपदी के पुत्रों के नाम, जो बहुत कम लोग जानते हैं.

– द्रौपदी से जन्में युधिष्ठिर के पुत्र का नाम प्रतिविन्ध्य था.

– द्रौपदी से जन्में भीम से उत्पन्न पुत्र का नाम सुतसोम था.

– द्रौपदी से जन्में अर्जुन के पुत्र का नाम श्रुतकर्मा था.

– द्रौपदी से जन्में नकुल के पुत्र का नाम शतानीक था.

– द्रौपदी से जन्में सहदेव के पुत्र का नाम श्रुतसेन था.

जाने किन देवताओं की वजह से हनुमान हुए इतने शक्तिशाली
गलती से भी भगवान को ना चढ़ाये ऐसे फूल

Check Also

नवरात्रि के चौथे दिन ऐसे करें माता कुष्मांडा का पूजन, जानें उनके स्वरूप

आप सभी जानते ही होंगे नवरात्रि का पर्व इन दिनों आरम्भ हो चुका है और …