शनि देव को तेल अर्पित करते समय इन बातो का रखे ध्यान

शनिवार को नियमित रूप से शनि को तेल चढ़ाने से शनि ग्रहो से बचा जा सकता है। सभी ग्रहो के लोगो को तेल का दान करना चाहिए। तेल का दान करने से ढय्या में शनि की कृपा बनी रहती है। लोगो का मानना है की शनि को तेल अर्पित करना हमारी प्राचीन परम्परा है। शनि को तेल अर्पित करते समय कुछ बातो का ध्यान रखने से शनि दोषो से बचा जा सकता है। आइये जानते है की वह कौन सी बाते है, जिन्हे जानकर हम शनि के दोषो से बच सकते है। शनि को तेल चढ़ाने के पीछे कई धार्मिक बाते भी जुडी हुई है। शनिवार को सड़को पर बाल्टी या किसी बर्तन मे शनि की प्रतिमा लिए कई लोग घूमते रहते है।

जिन्हे हम तेल चढ़ाते है पर जानकारी न होने की वजह से हमें उस दान का पूरा फायदा नहीं मिल पाता है। शनि को तेल चढ़ाने से पहले तेल में अपना चेहरा देख कर तेल दान करना चाहिए। तेल दान करने के साथ ही इच्छा अनुसार धन का भी दान देना चाहिए। ऐसा करने से आपके बिगड़े काम फिर से बन जाते है। घर में सुख-समृद्धि आती है। शास्त्रो के अनुसार हमारे शरीर के विभिन्न अंगो में ग्रहो का वास होता है। त्वचा, दांत, कान, हड्डियां और घुटनों कारक ग्रह हैं। शनि के दोषो से बचने के लिए हर शनिवार मालिश करनी चाहिए।

शनि साधना से सारे कष्ट हो जाते हैं दूर
मां संतोषी देती हैं समृद्धि का वरदान

Check Also

नवरात्रि : यंहा माता पार्वती ने लगाया था वृक्ष, जो आज भी है सुरक्षित

वैसे तो माता पार्वती ने कई वृक्ष भिन्न भिन्न स्थानों पर लगाए थे जिनमें से …