इस राशि के लड़के/लड़की करें एक दूसरे शादी, जिंदगी होगी खुशनुमा

अमूमन हम सभी ने घर के वरिष्ठ परिजनों को कहते सुना है कि, ‘जोड़ियां तो ऊपर से बनकर आती हैं। हम तो बस खोजते हैं।’ हिंदू मान्यताओं के अनुसार यह बात सत्य है, लेकिन विवाह के वर या वधू खोजने के लिए आप क्या करते हैं? हो सकता है रिश्तेदारी में खोजते होंगे, या फिर वैवाहिक विज्ञापन निकलवाकर।

अब यदि सुयोग्य पुरुष/ कन्या मिल भी जाए। तो कुछ इस तरह उनके बारे में काफी हद तक काफी कुछ जान सकते हैं।

इस तालिका से अपने नाम और आपके पार्टनर की राशि तलाशें….

मेष- चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ

वृषभ- इ, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो

मिथुन- का, की, कु, के, को, घ, ड़, छ, हा

कर्क- ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो

सिंह- मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे, टो

कन्या- पा, पी, पू, पे, पो, ष, ण, ठ

तुला- रा, री,रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते

वृश्चिक- तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू, ये, यो,

धन- भा, भी, भू, भे, फा, ढा, ध, भो

मकर- जा, जी, खा, खी, खू, खो, गा, गी

कुंभ- गू, गे, गो, दा, सा, सी, सू, से, सो

मीन- दी, दू, दे, दो, चा, ची, थ, झ, त्र

यहां खोजें विशेषता…

मेष और कुम्भ: यदि इन दोनों राशियों के जातक विवाह करते हैं संबंध बेहतर होता है। क्योंकि ये लोग साहसी, बंधन मुक्त और घूमना पसंद करते हैं।

वृश्चिक और सिंह: सिंह राशि को लोग अपने मुंह मियां मिट्ठू बनना पसंद करते हैं तो वृश्चिक राशि के लोग थोड़े तेज प्रवृत्ति के होते हैं इसलिए ऐसे में दोनों राशियों के जातकों को विवाह करने से बचना चाहिए।

मेष और कर्क: जैसा कि पहले बताया गया है मेष राशि के लोग साहसी, निर्भीक होते है, कर्क राशि के लोग इन्हें पसंद करते हैं। इस लिए विवाह के लिए इन दोनों राशियों का सामंजस्य बेहतर माना जाता है।

तुला और सिंह: तुला और सिंह दोनों राशियों के जातक ही सामाजिक होना पसंद करते हैं, यह उन दोनों की खासियत है जो उन्हें एक दूसरे के बिलकुल काबिल बनाती है।

कर्क और मीन: इनमे दोनों राशियों के जातक में किसी भी तरह का छल कपट नहीं होता है एक दूसरे के लिए। दोनों बहुत भावात्मक और बुद्धिमान होते हैं। इसलिए ये बेहतर हैं।

धनु और मेष: ये व्यक्ति समाज से बहुत प्रेम करने वाले होते हैं यही खूबी मेष के अन्दर होती है जो उन दोनों को एक दुसरे के लिए बिलकुल सही जोड़ी बनाती है।

मिथुन और तुला: इन दोनों का यौन सम्बन्ध बहुत अच्छा होता है, जो इनके वैवाहिक सम्बन्ध खुशनुमा बनाता है। इसलिए ये बेहतर हैं।

मेष और मीन: मीन राशि वाले व्यक्ति सामान्य रूप से जिम्मेदारियों से बचते है और अपना काम अपने मेष साथी को देने से बुरा नहीं मानते हैं।

सिंह और मिथुन: मिथुन राशि वालों के पास यह क्षमता होती है कि वह सिंह राशि के व्यक्ति को बहकने से रोक सके और उसे गलत रास्ते पर जाने से बचा लेते हैं।

कुम्भ और मिथुन: कुम्भ राशि वाले बहुत ही रचनात्मक होते हैं जिसे मिथुन राशि वाले बहुत पसंद करते हैं।

कन्या और मकर: मकर वाले बहुत ही व्यावहारिक होते हैं और कन्या की इमानदारी से बहुत प्रभावित रहते हैं।

सिंह और धनु:धनु राशी के लोग सिंह राशि वालों के आत्मविश्वास बहुत पसंद आता है, जबकि कुछ और दूसरे चीजों के मामले में ये थोड़े कठोर होते हैं।

मकर और वृषभ: मकर राशि वालों को उनके वृषभ साथी का दयालु और संवेदनशील स्वभाव बहुत पसंद आता है।करता है।

 

इस तरह की आदत वाली बीवियां होती हैं सबसे खतरनाक, पति और ससुराल को कर देती है बर्बाद
हिन्दुओं में अगर विवाह के बाद रात्रि तुरन्त करे ये काम, तो सभी कष्ट होगे दूर

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …