घर से निकलने से पहले करें इस मन्त्र का जाप सफलता आप के कदमों…

भगवान् का स्मरण अवश्य करते हैं हम उन्हें याद करते की हमारा आज का दिन और ये कार्य शुभ तत्रीके से बीत जाए हम जब भी घर से बाहर निकलते हैं तब भी अपने आराध्य को याद करते हिना उर उनसे ये विनती करते हैं की आज सही सलामत अपने आवास पर वापस लौट आए हम काम के मामले में हम अक्सर अपने भगवान् को याद करते हैं अगर आप घर से बाहर जाने से पहले भगवान् को याद करने के साथ ही इस मन्त्र का जाप करेंगे तो निश्चित रूप से आपका कार्य पूर्ण होगा और आपका दिन शुभ होगा।

हम आपको ऐसा मंत्र बताने जा रहे हैं जो आपके कार्य को पूर्ण करने के साथ ही अपके अभी ध्यान रखेगा आप जब इस मन्त्र को घर से निकालने से पहले जाप करेंगे तो आपकी राह के सारे रोड़े रुकावटें सब दूर जाएंगी आपका कार्य सुगम तरीके से पूरा होगा और आपको बहुत संतुष्टि मिलेगी।

प्रबिसि नगर कीजे सब काजा
हृदयँ राखि कोसलपुर राजा

इसका अर्थ है कि अयोध्यापुरी के राजा श्री रघुनाथजी को हृदय में रखकर नगर में प्रवेश करके सब काम कीजिए उसके लिए विष अमृत हो जाता है शत्रु मित्रता करने लगते हैं समुद्र गाय के खुर के बराबर हो जाता है अग्नि में शीतलता आ जाती है भगवान राम का ये मंत्र क‍िसी सुरक्षा कवच से कम नहीं है।

इस मन्त्र का जाप करने मात्र से ही आपकी सारी बाधाएं दूर हो जाएंगी और आप सही तरह से अपने कार्य को करने में सफल होंगे जब भी आप किसी ख़ास प्रयोजन के लिए घर से बाहर निकलें तो इस मन्त्र का जाप ज़रूर करें परिवार के सभी सदस्यों को इसे करने के लिए कहें साथ में अगर संभव हो तो रोज़ सुबह सब एक साथ इस मन्त्र का जाप करने के बाद ही नाश्ता करें और घर से बाहर कदम रखें इतना ही नहीं जब आप किसी विशेष कार्य के लिए कहीं जाते हैं तो आपके मन में यह शंका अवश्य रहती हैं कि अमुक कार्य में सफलता मिलेगी या नहीं कार्य में सफलता मिलने में कहीं कोई बाधा तो नहीं होगी।

अगर आपके मन में किसी कार्य के पूरा होने में शंका है और आप सोच रहे हैं की न जाने ये होगा या नहीं तो इस शंका के निवारण के लिए तथा कार्य में सफलता पाने के लिए नीचे लिखे मंत्र का जप करें तो सभी प्रकार की बाधाओं का नाश हो जाता है और कार्य में सफलता अवश्य मिलती है।

राम लक्ष्मणौ सीता च सुग्रीवों हनुमान कपि।
पञ्चैतान स्मरतौ नित्यं महाबाधा प्रमुच्यते।।

जब भी आप घर से किसी विशेष कार्य के लिए बाहर निकलें तो सबसे पहले भगवान श्रीराम के चित्र के समक्ष इस मंत्र का जप मन ही मन में करें उसके बाद घर से निकलें तो आपके कार्य में कोई बाधा नहीं आएगी और कार्य में सफलता भी मिलेगी आपके ऐसा करने से आपका काम शुभ तरह से पूर्ण होगा और आपको संतुष्टि भी मिलेगी।असल में हम कितना कुछ क्यों न कर लें, लेकिन जैसे ही प्रभु के चरणों की वंदना करते हैं तैसे ही हमारा काम सफल हो जाता है।

जानें गंगा की उत्पत्ति की पूरी कहानी…
ये चार राशियों के लोग छुपा-रुस्‍तम अपने मन की बात अपने दिल में ही छिपाकर रखते…

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …