जानिए 27 अक्टूबर का पंचांग शुभ और अशुभ मुहूर्त

आज के समय में पंचांग देखने से शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल के बारे में पता चलता है। ऐसे में आज हम लेकर आए हैं आज का यानी 27 अक्टूबर का पंचांग।

27 अक्टूबर का पंचांग –

दिन: मंगलवार, शुद्ध आश्विन मास, शुक्ल पक्ष, एकादशी तिथि।

आज का दिशाशूल: उत्तर।

आज का राहुकाल: दोपहर 03:00 बजे से 04:30 बजे तक।

आज का पर्व एवं त्योहार: पापांकुशा एकादशी।

विशेष: पंचक।

आज की भद्रा: प्रात: 10:45 मिनट पर समाप्त।

विक्रम संवत 2077 शके 1942 दक्षिणायन, दक्षिणगोल, शरद ऋतु शुद्ध आश्विन मास शुक्ल पक्ष की एकादशी 10 घंटे 45 मिनट तक, तत्पश्चात् द्वादशी शतभिषा नक्षत्र 06 घंटे 37 मिनट तक, तत्पश्चात् पूर्वभाद्रपद नक्षत्र धु्रव योग 25 घंटे 07 मिनट तक, तत्पश्चात् व्याघात योग कुंभ में चंद्रमा 26 घंटे 30 मिनट तक तत्पश्चात् मीन में।

आज का शुभ समय –

अभिजित मुहूर्त: दिन में 11 बजकर 42 मिनट से दोपहर 12 बजकर 27 मिनट तक।

रवि योग: सुबह 06 बजकर 30 मिनट से सुबह 06 बजकर 37 मिनट तक।

अमृत काल: देर रात 12 बजकर 20 मिनट से देर रात 02 बजकर 06 मिनट तक।

त्रिपुष्कर योग: दिन में 10 बजकर 46 मिनट से 28 अक्टूबर को सुबह 06 बजकर 30 मिनट तक।

विजय मुहूर्त: दोपहर 01 बजकर 56 मिनट से दोपहर 02 बजकर 41 मिनट तक।

सूर्योदय और सूर्यास्त – आज पापांकुशा एकादशी के दिन सूर्योदय प्रात:काल 06 बजकर 30 मिनट पर होगा, वहीं सूर्यास्त शाम को 05 बजकर 40 मिनट पर होना है।

चंद्रोदय और चंद्रास्त – आज का चंद्रोदय दोपहर में 03 बजकर 43 मिनट पर होगा। वहीं, चंद्र का अस्त अगले दिन बुधवार 28 अक्टूबर को तड़के 03 बजकर 28 मिनट पर होगा।

आज शुद्ध आश्विन शुक्ल एकादशी है। इसी के साथ आज मंगलवार का दिन है।

जानिए कब है पापांकुशा एकादशी, इस व्रत करने वालों को पाप से मिलती है मुक्ति
जानिए शरीर के किस अंग में तिल का होना माना जाता है अशुभ

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …