जानिए क्या है आज का पंचांग, शुभ और अशुभ मुहूर्त

क्या है आज के शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहुकाल, जानिए यहाँ पंचांग।

आज का पंचांग-

अंग्रेजी तारीख- 05 जनवरी सन् 2021 ई०।
सूर्यउत्तरायण, दक्षिणगोल, शिशिर ऋतु:।

राहुकाल अपराह्न 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। सप्तमी तिथि अगले दिन तड़के 04 बजकर 04 मिनट तक उपरांत अष्टमी तिथि का आरंभ, उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र सायं 06 बजकर 21 मिनट तक उपरांत हस्त नक्षत्र का आरंभ।

शोभन योग अर्धरात्रोत्तर 03 बजे तक। उपरांत अतिगण्ड योग का आरंभ, विष्टि करण सायं 04 बजकर 56 मिनट तक उपरांत बालव करण का आरंभ। चंद्रमा दिन-रात कन्या राशि पर संचार करेगा।

सूर्योदय का समय 05 जनवरी: सुबह 07 बजकर 14 मिनट पर।
सूर्यास्त का समय 05 जनवरी: शाम 05 बजकर 38 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्तः अभिजित मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 06 मिनट से 12 बजकर 47 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 11 मिनट से 02 बजकर 52 मिनट तक रहेगा। निशीथ काल मध्‍यरात्रि 12 बजे से 12 बजकर 54 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 05 बजकर 28 मिनट से 05 बजकर 52 मिनट तक। अमृत काल सुबह 11 बजकर 26 मिनट से दोपहर 12 बजकर 58 मिनट तक रहेगा। रवि योग सुबह 07 बजकर 15 मिनट से 06 बजकर 21 मिनट तक। त्रिपुष्कर योग सुबह 07 बजकर 15 मिनट से शाम 06 बजकर 21 मिनट तक रहेगा।

आज का अशुभ मुहूर्तः राहुकाल दोपहर 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। सुबह 09 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक यमगंड रहेगा। दोपहर 12 बजे से 01 बजकर 30 मिनट तक गुलिक काल रहेगा। दुर्मुहूर्त काल सुबह 09 बजकर 20 मिनट से 10 बजकर 01 मिनट तक रहेगा इसके बाद 11 बजकर 05 मिनट से दोपहर 12 बजे तक। वर्ज्य काल मध्‍यरात्रि 02 बजकर 20 मिनट से 03 बजकर 51 मिनट तक। भद्राकाल सुबह 07 बजकर 15 मिनट से दोपहर 04 बजकर 57 मिनट तक।

14 जनवरी को है मकर संक्रांति, जानिए इसका पुण्य काल
अनजाने में भी न करें ये काम, हो सकता है भूतों का आगमन

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …