आज है वागेश्वरी जयंती, जानिए पंचांग

आज के समय में लोग पंचांग देखते हैं और फिर अपने दिन की शुरुआत करते हैं। ऐसे में आज हम लेकर आए हैं आज का यानी 16 फरवरी का पंचांग।

16 फरवरी का पंचांग-

दिन: मंगलवार, माघ मास, शुक्ल पक्ष, पंचमी तिथि।

आज का दिशाशूल: उत्तर।

आज का राहुकाल: दोपहर 03:00 बजे से 04:30 बजे तक।

विशेष: पंचक (रात्रि के 08 बजकर के 55 मिनट पर समाप्त)।

आज का पर्व एवं त्योहार: बसंत पंचमी, वागेश्वरी जयंती, सरस्वती पूजा।

विक्रम संवत 2077 शके 1942 उत्तरायन, दक्षिणगोल, शिशिर ऋतु माघ मास शुक्ल पक्ष की पंचमी 29 घंटे 47 मिनट तक, तत्पश्चात् षष्ठी रेवती नक्षत्र 30 घंटे 55 मनट तक, तत्पश्चात् अश्वनी नक्षत्र शुभ योग 25 घंटे 48 मिनट तक, तत्पश्चात् शुक्ल योग मीन में चंद्रमा 20 घंटे 55 मिनट तक तत्पश्चात् मेष में।

सूर्योदय और सूर्यास्त
आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 06 बजकर 59 मिनट पर।

सूर्यास्त शाम को 06 बजकर 12 मिनट पर ।

चंद्रोदय और चंद्रास्त

आज का चंद्रोदय प्रातः 09 बजकर 43 मिनट पर।

चंद्र का अस्त रात 08 बजकर 25 मिनट पर।

आज का शुभ समय

अभिजित मुहूर्त: आज दोपहर 12 बजकर 13 मिनट से दोपहर 12 बजकर 58 मिनट तक।

अमृत काल: शाम को 06 बजकर 18 मिनट से रात 08 बजकर 04 मिनट तक।

सर्वार्थ सिद्धि योग: आज रात 08 बजकर 57 मिनट से कल 17 फरवरी को प्रात: 06 बजकर 58 मिनट तक।

विजय मुहूर्त: दोपहर 02 बजकर 28 मिनट से दोपहर 03 बजकर 12 मिनट तक।

अमृत सिद्धि योग: आज रात 08 बजकर 57 मिनट से कल 17 फरवरी को प्रात: 06 बजकर 58 मिनट तक।

रवि योग: आज रात 08 बजकर 57 मिनट से कल 17 फरवरी को प्रात: 06 बजकर 58 मिनट तक।

आज है सरस्वती पूजा, शिक्षा में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए करें ये उपाय
गुरू के उदय होने के बाद भी नहीं कर सकेंगे ये शुभ कार्य, जानिए क्या है इसके पीछे का कारण

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …