इस दिन है हनुमान जयंती, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा की विधि

भगवान हनुमान को संकट मोचक कहा गया है. हनुमान जी की महिमा अपार है. हनुमान जी को परम राम भक्त माना गया है. हनुमान जी का आर्शीवाद जीवन में आने वाली हर समस्या को दूर करने की क्षमता रखता है. हनुमान भक्त हनुमान जयंती का वर्षभर इंतजार करते हैं. संपूर्ण भारत में हनुमान जयंती बहुत ही भक्तिभाव से मनाई जाती है.
हनुमान जयंती कब है? पंचांग के अनुसार इस वर्ष हनुमान जयंती का पर्व 27 अप्रैल 2021 को मनाया जाएगा. हनुमान जयंती हर वर्ष चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है. कुछ जगहों पर हनुमान जयंती का पर्व कार्तिक मास में भी मनाया जाता है. भगवान शिव के 11 वें अतवार है हनुमान हनुमान जी को भगवान शिव का 11वां अवतार भी कहा गया है. इस दिन हनुमान जी की पूजा करने और व्रत रखने से हनुमान जी का आर्शीवाद प्राप्त होता है. हनुमान जी को सकंट मोचक भी कहा गया है. जिन लोगों की कुंडली में शनि अशुभ स्थिति में हैं या फिर शनि की साढ़ेसाती और शनि की ढैय्या चल रही है. वे लोग यदि इस दिन हनुमान जी की पूजा विधि पूर्वक करते हैं तो शनि देव से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं. हनुमान जी को मंगलकारी कहा गया है. इसलिए इनकी पूजा जीवन में मंगल लेकर आती हैं. हनुमान जयंती पूजा मुहूर्त 26 अप्रैल 2021: दोपहर 12 बजकर 44 मिनट पर पूर्णिमा तिथि प्रारम्भ. 27 अप्रैल 2021: रात्रि 9 बजकर 01 मिनट पर पूर्णिमा तिथि का समापन पूजा विधि हनुमान जी का जन्म सूर्योदय के समय हुआ था. इसलिए हनुमान जयंती के दिन ब्रह्ममुहूर्त में पूजा करना अच्छा माना गया है. इस दिन हनुमान जी की प्रिय चीजों का भोग लगाना चाहिए. इस दिन हनुमान चालीसा, सुदंरकांड और हनुमान आरती का पाठ करना चाहिए.
आज है एकादशी तिथि, जानिए आज का पंचांग
जानिए आखिर क्यों महादेव पर नहीं चढ़ाया जाता तुलसी और केतकी का फूल....

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …