शारीरिक बनावट के इन संकेतों से जानिए आप होंगे अमीर या करेंगे सफर

कुंडली के जरिये ग्रहों की चाल तथा राजयोग के बारे में सरलता से पता लगाया जा सकता है। हालांकि, बेहद कम व्यक्तियों को पता है कि शरीर की बनावट के आधार पर भी राजयोग के बारे में पता लगाया जा सकता है। शारीरिक बनावट के आधार पर भविष्य जानने की इस विद्या को सामुद्रिक शास्त्र बोलते हैं। सामुद्रिक शास्त्र का भरण ग्रंथ शरीर की बनावट के आधार पर बताता है कि किस शख्स के रईस बनने के योग हैं तथा किसके नहीं। आइए जानते हैं इसके बारे में।
सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार, जिन व्यक्तियों की छाती चौड़ी, नाक लंबी तथा नाभि गहरी होती है, उन्हें कम आयु में ही बेहद कामयाबी प्राप्त हो जाती है। ऐसे व्यक्ति अपने सारे सपने सरलता से पूरे कर लेते हैं। इन व्यक्तियों के पास धन का आभाव नहीं होता है और ये व्यक्ति अधिकतर प्रॉपर्टी में निवेश करते हैं। जिन व्यक्तियों के पैर के तलवे में अंकुश, कुंडल अथवा चक्र के निशान होते हैं वो व्यक्ति एक अच्छे शासक, बड़े व्यापारी, अधिकारी अथवा राजनेता बनते हैं। वही जिन स्त्रियों की बायीं हथेली के बीच में तिल, ध्वजा, मछली, वीणा, चक्र अथवा कमल जैसी आकृतियां बनती हैं वो लक्ष्मी समान मानी जाती हैं। भरण ग्रंथ के मुताबिक, ऐसी स्त्रियां जहां भी जाती हैं वहां धन तथा खुशियों का ढेर लगा देती हैं। वहीं जिन पुरुषों के हाथों या पैरों में मछली, अंकुश अथवा वीणा के समान निशान हों, वह कम वक़्त में पैसा तथा प्रतिष्ठा कमा लेते हैं। जिनकी हथेली के बीचोबीच तिल होता है वो व्यक्ति बेहद धनवान तथा समाज में प्रतिष्ठित होते हैं। वहीं जिन व्यक्तियों के तलवों पर तिल, चंद्रमा अथवा वाहन जैसा निशान दिखाई देता है, उन्हें कई प्रकार के वाहनों का सुख प्राप्त होता है। ऐसे व्यक्ति कई देशों की यात्रा करते हैं।
इस दिन है गुड़ी पड़वा, जानिए तिथि और महत्व
घर में भूलकर भी न लगाएं ऐसे पेड़, नहीं तो हो सकती है बड़ी समस्या

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …