Tag Archives: इसलिए देते हैं दुष्टों को दण्ड

इस दिन है काल भैरव अष्टमी, इसलिए देते हैं दुष्टों को दण्ड

शास्त्रों में भैरव महाराज को शिव का अनन्य भक्त बताया गया है। इसलिए शिव ने तीनों लोकों में अपनी प्रिय नगरी काशी का कोतवाल यानी काशी नगरी की सुरक्षा का भार उनको सौंपा है। शिवपुराण के अनुसार मासों में श्रेष्ठ मास मार्गशीर्ष के कृष्णपक्ष की अष्टमी को भैरवदेव का प्रागट्य हुआ था। भैरव भगवान की उत्पत्ति शंकर के अंश से …

Read More »