गुरु नानक जयंती: ये है गुरुजी की 10 शिक्षाएं जो बदल सकती हैं आपका जीवन

आप सभी को बता दें कि आज सिख धर्म के लोग गुरु नानक देव का जन्मदिन मना रहे हैं. जी हाँ, आज सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव की 550वीं जयंती है. आपको बता दें कि नानक साहिब का जन्म 15 अप्रैल 1469 को पंजाब के तलवंडी में हुआ था, जो कि अब पाकिस्तान में हैं और इस जगह को ननकाना साहिब के नाम से भी जाना जाता है.

ऐसे में आपको यह भी बता दें कि गुरु नानक का जन्म माता तृप्ता और कृषक पिता कल्याणचंद के घर हुआ था और गुरु नानक की शिक्षाएं आज भी सही रास्ते में चलने वाले लोगों का मार्ग दर्शन कर रही हैं. इसी के साथ इनके अनुयायी इन्हें नानक और नानक देव, बाबा नानक और नानक शाह जी जैसे नामों से संबोधित करते हैं और कई चमत्कारिक घटनाओं की वजह से नानक देव 7-8 साल की उम्र में ही बहुत प्रसिद्ध हुआ था. आज हम आपको बताने जा रहे हैं गुरु नानक जयंती की 10 बड़ी शिक्षाओं के बारे में.

गुरुजी की 10 शिक्षाएं
1 – परम-पिता परमेश्वर एक है.

2 – हमेशा एक ईश्वर की साधना में मन लगाओ.

3 – दुनिया की हर जगह और हर प्राणी में ईश्वर मौजूद हैं.

4 – ईश्वर की भक्ति में लीन लोगों को किसी का डर नहीं सताता.

5 – ईमानदारी और मेहनत से पेट भरना चाहिए.

6 – बुरा कार्य करने के बारे में न सोचें और न ही किसी को सताएं.

7 – हमेशा खुश रहना चाहिए, ईश्वर से सदा अपने लिए क्षमा याचना करें.

8 – मेहनत और ईमानदारी की कमाई में से जरूरत मंद की सहायता करें.

9 – सभी को समान नज़रिए से देखें, स्त्री-पुरुष समान हैं.

10 – भोजन शरीर को जीवित रखने के लिए आवश्यक है. परंतु लोभ-लालच के लिए संग्रह करने की आदत बुरी है.

आपको रातोंरात अमीर बना देंगे वास्तु के यह ख़ास टिप्स
अमूर्त तक पहुँचने का सेतु है मूर्ति-पूजा

Check Also

चाणक्य की ये पांच बाते याद रख, सफलता की सीढ़ियां चढ़ सकते है आप

दुनिया में सभी लोग सफलता पाने के लिए बेताब रहते हैं लेकिन सफलता कभी कभी …