साल के आखिरी शनिवार पर करें यह काम बरसेगी कृपा, शनि देव के साथ हनुमान जी देंगे आशीर्वाद

28 दिसंबर वर्ष 2019 का आखिरी शनिवार है, धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक शनिवार के दिन शनि देव की पूजा करने से शनि के प्रकोप से बचा जा सकता है। शनि के बुरे प्रभाव के कारण व्यक्ति का जीवन बुरी तरह प्रभावित हो जाता है। आज हम आपको कुछ आसान से उपाय बताते हैं, जिनको करने से आप पर शनि का बुरा प्रभाव नहीं पड़ पायेगा। शनि मंदिर जाएं -साल के इस आखिरी शनिवार के दिन शनि देव के किसी भी मंदिर में जाएं और शनि देव से प्रार्थना करें और धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक शनि देव को तेल चढ़ाने से भी शनि देव प्रसन्न हो जाते हैं और उनकी कुदृष्टि उस व्यक्ति पर नहीं पड़ती है।

कर्म के देवता कर्म के मुताबिक करते हैं न्याय-शनि देव को कर्म फल दाता भी कहा जाता है। ऐसी मान्यता है कि शनि देव कर्म के अनुसार ही व्यक्ति को फल देते हैं। इस आखिरी शनिवार बेहतर कर्मों का संकल्प लें। हनुमान जी की पूजा करें और हनुमान जी के मंदिर जाएं-धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मंगलवार और शनिवार संकटमोचन हनुमान जी का है। अगर आप पर भी शनि की बुरी दशा चल रही है तो हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी की पूजा करने से सभी तरह के दुष्प्रभाव दूर हो जाते हैं और जीवन में सब कुछ पहले से बेहतर हो जाता है। हनुमान जी इस कलयुग में जाग्रत देव हैं और अपने भक्तों से बहुत जल्दी प्रसन्न होने वाले भगवान हैं।

हनुमान जी अपने भक्तों से बहुत जल्दी प्रसन्न होने वाले देव हैं। आप यदि सिर्फ राम नाम का सुमिरन करेंगे तो हनुमान जी आपसे अवश्य ही प्रसन्न हो जाएंगे। नित्य हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। हनुमान जी के नित्य पाठ करने से न सिर्फ शनि दशा से छुटकारा मिलेगा बल्कि सभी तरह की समस्याएं दूर हो जाएंगी। संभव हो तो शनिवार के दिन सुंदरकांड का पाठ भी करना चाहिए। सुंदरकांड के पाठ से विशेष लाभ मिलता है।

भारत के इन रहस्यमयी मंदिरो में भगवान् को आता है पसीना, जानिये क्या है पूरी बात
यदि करना है अपनी मनोकामनाओ को पूरा तो, करें हर दिन यह उपाय

Check Also

युधिष्ठिर के दोनों हाथ जलाना चाहते थे भीम, जानिए क्यों?

महाभारत से जुडी ऐसी कई कहानियां है जो लोगों को नहीं पता है. महाभारत में एक …