दीपावली पूजन के लिए मां लक्ष्मी की आरती

lakshmi00-1435227180-300x214ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता।

तुमको निस दिन सेवत, हर विष्णु धाता ॥ ॐ जय…॥

उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग माता।

सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॥ ॐ जय…॥

दुर्गारूप निरंजनि, सुख सम्पति दाता।

जो कोई तुमको ध्यावत, ऋद्धि-सिद्धि-धन पाता ॥ ॐ जय…॥

तुम पाताल निवासिनि, तुम ही शुभ दाता।

कर्म प्रभाव प्रकाशिनि, भवनिधि की त्राता ॥ ॐ जय…॥

जिस घर तुम रहती, तहं सब सद्गुण आता।

सब संभव हो जाता, मन नहीं घबराता ॥ ॐ जय…॥

तुम बिन यज्ञ न होते, वस्त्र न हो पाता।

खान-पान का वैभव, सब तुमसे आता ॥ ॐ जय…॥

शुभ गुण मंदिर सुंदर, क्षीरोदधि जाता।

रत्न चतुर्दश तुम बिन, कोई नहीं पाता ॥ ॐ जय…॥

महालक्ष्मीजी की आरती, जो कोई जन गाता।

उर आनंद समाता, पाप उतर जाता ॥ ॐ जय…॥

 

प्रभु राम जब आए अयोध्या, घी के दीये से किया प्रकाश
इन आयुर्वेद चिकित्सकों पर थी धन्वंतरि की कृपा, दुनिया करती है इन्हें सलाम

Check Also

शिवरात्रि साधना : इस उपाय से मिलेंगे जीवन के सातों सुख

मानव जीवन में सात प्रकार के सुख बताए गए हैं। जिनके होने पर मनुष्य अपने …