छड़ी मुबारक के दर्शनों के लिए उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

जम्मू-कश्मीर में इन दिनों अमरनाथ यात्रा का जोर देखने को मिल रहा है। बड़े पैमाने पर श्रद्धालु बाबा अमरनाथ के दर्शनों के लिए पहुंच रहे हैं। ऐसे में श्रद्धालुओं द्वारा बाबा की एक झलक पाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। श्री अमरनाथ गुफा में भगवान शिव की छड़ी मुबारक वेदमंत्रों के उच्चारण के साथ प्रारंभ हुआ। मामले में यह बात सामने आई है कि 59 दिवसीय वार्षिक यात्रा के तहत करीब 3 लाख 51 हजार से अधिक श्रद्धालुओं द्वारा बाबा बर्फानी के दर्शन किए गए। मिली जानकारी के अनुसार छड़ी मुबारक के संरक्षक महंत दीपेंद्र गिरि के नेतृत्व में छडि़यों को  7.30 बजे अमरेर मंदिर से निकाला गया तो दर्शनार्थी उल्लासित हो उठे।

हर कहीं  बम भोले के जयकारे गूंज उठे। यही नहीं इसे मंदिर से बाहर भी निकाला गया। वातावरण बम भोले और हर – हर महादेव के जयकारों से गूंज उठा। सुरक्षा कारणों से छड़ी मुबारक पहलगाम तक वाहन द्वारा ले जाया गया। यात्रा के दौरान छड़ी मुबारक चंदनवाड़ी तक पहुंचेगें। इसके बाद गुफा मंदिर तक पैदल यात्रा की जाएगी। यही नहीं श्रावण पूर्णिमा के मौके पर अंतिम पूजन अर्चना भी की जाएगी। महंत गिरि द्वारा कहा गया कि 26 अगस्त को एकादशी और द्वादशी होने के चलते छड़ी मुबारक दोपहर को पहलगाम से विश्राम के लिए चंदनवाड़ी के लिए पहुंचेगी।

यही नहीं इसके बाद यह यात्रा चंदनवाड़ी से शेषनाग के लिए पहुंचगे और फिर 25 अगसत को पंजतरणी के लिए पहुंच जाएगी। श्रावण – पूर्णिमा के दिन छड़ी मुबारक पवित्र अमरनाथ गुफा पहुंचेगा और धार्मिक और पारंपरिक रीति- रीवाज से पूजन अर्चन किया जाएगा। 30 अगस्त को छड़ी मुबारक का विसर्जन होगा। इसके बाद भंडारे का आयोजन होगा।

सूर्य पूजा से बढ़ेगी बुद्धि मिलेगा मान-सम्मान
आठ शक्तिपीठ मंदिर, अष्टविनायक की यात्रा

Check Also

इन सात कारणों से किया गया दान का फल उल्टा होता है।

किसी भी व्यक्ति का जीवन सफल तभी है जब वह अपना कल्याण करे। भौतिक दृष्टि …