श्री कृष्ण के ये 7 प्रमुख उपदेश, जो बदल सकते हैं किसी भी व्यक्ति का जीवन

एक बेहतर प्रेमी, एक बालक, एक मित्र, एक पुत्र हर किरदार श्री कृष्ण में देखने को मिलता है. श्री कृष्ण ने इस दुनिया को दिया ही दिया है. उनकी वाणी छोड़िए दुनिया तो उनकी बांसुरी की धुन तक की दीवानी थी. उनके कहे गए वचन जीवन में मानव उतार ले तो मानव एक बेहतर जीवन जी सकता है. जानिए श्री कृष्ण द्वारा कहे गए 7 अनमोल विचार.

श्री कृष्ण के 7 अनमोल विचार…

– भगवान श्री कृष्ण ने कहा है कि जिस प्रकार गौ माता के पास बछड़ा पहुंच जाता है, ठीक उसी प्रकार व्यक्ति को कर्म का फल तलाश लेता है.

– भगवान श्री कृष्ण के मुख से गीता में एक अद्भुत बात भी सुनने को मिली है. जिसमे यह बताया है कि यह मानव शरीर एक दिन नष्ट हो जाना है, जबकि यह आत्मा सर्वदा रहेगी. न इसका जन्म होता है और न ही अंत.

– श्री कृष्ण ने यह भी कहा है कि भगवान होने के बाद भी मैं किसी भी मानव को उसके कर्मों का फल नहीं देता हूँ और न ही मैं किसी के भाग्य को लिखता हूँ.

– भगवान श्री कृष्ण आगे कहते हैं कि मानव अपने कर्मों से अपने भाग्य का निर्माण खुद करता है. अर्थात हमे किस्मत के भरोसे बैठे नहीं रहना चाहिए.

– जिस तरह हम पुराने वस्त्रों का त्याग कर नए वस्त्र धारण कर लेते है, ठीक उसी तरह आत्मा भी एक शरीर का त्याग कर दूसरा शरीर अपना लेती है.

– श्री कृष्ण कुछ भी खोने पर कहते है कि व्यर्थ क्यों चिंता करते हो. नाम, काम, जन्म सब कुछ तो तुम्हें दूसरे से मिला है. अर्थात हम इस दुनिया में खाली हाथ आए थे और खाली हाथ ही जाना है.

– जीवन में जो भी हुआ, जो भी चल रहा है और जो भी होने वाला है उसे लेकर श्री कृष्ण कहते हैं कि जो हुआ, जो होगा और जो हो रहा है सब अच्छे के लिए ही होता है.

जानें क्या हुआ जब प्रभु श्रीराम को एक अप्सरा ने दे दिया था श्राप
जन्माष्टमी : भगवान कृष्ण से ये 10 आशीर्वाद पाने के लिए जरुर पढ़े कृष्ण चालीसा

Check Also

शनिदेव: भाग्यदेवता को यंत्र से करें खुश, शनि का यंत्र है अत्यंत फलदायी

शनिदेव के उपायों में तेल तिलहन का दान, रत्नों का धारण एवं मंत्र जाप प्रमुखता …