इस सावन घर ले आएं भोलेनाथ की ये मनपसंद चीज़ें, तो हर तरह के संकट से मिलेगा छुटकारा

सावन का महिना यानि भगवान शिव जी की आराधना करने का महिना होता हैं| सावन के महीने में शिव जी की आराधना करने से दोगुना फल मिलता हैं| इस महीने में भगवान शिव जी की पुजा में कुछ विशेष सामग्रियों का प्रयोग किया जाता हैं| सामग्रियों के साथ कुछ विशेष वस्तुएं भी घर में ले आया जाए तो घर में शुभता की वृद्धि होती हैं| वास्तुशास्त्र के मुताबिक ये सारी चीज़े घर में सुख-समृद्धि तो लाती ही हैं, साथ में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता हैं| तो आइए जानते हैं उन सामग्रियों के बारे में जो सावन के महीने में घर लानी चाहिए|इस सावन घर ले आएं भोलेनाथ की ये मनपसंद चीज़ें, तो हर तरह के संकट से मिलेगा छुटकारा

(1) त्रिशूल

त्रिशूल को भगवान शिव की का अस्त्र है| इसलिए वह सदैव उनके हाथों में रहता है। त्रिशूल जैसा नाम से ही प्रतीत हैं की यह 3 देव और 3 लोक का प्रतीक है। इसलिए सावन महीने के पहले दिन चांदी का त्रिशूल लाने से आप साल भर तक आपदाओं से सुरक्षित रहते हैं|

(2) रुद्राक्ष

सुख, सौभाग्य और समृद्धि के लिए असली रुद्राक्ष को अपने घर में लाएं या फिर घर में रखे रुद्राक्ष को चांदी में गढ़वा कर पहनें।

(3) डमरू

डमरू शिव का पवित्र वाद्य यंत्र है। इसकी ध्वनि से आपके आसपास से समस्त नकारात्मक शक्तियां दूर हो जाती है। डमरू को सावन महीने के पहले दिन ही अपने घर लाकर रखें और महीने के अंतिम दिन आप इस डमरू को किसी बच्चे को उपहार स्वरूप दें।

(4) चांदी के नंदी

शिव जी का गण नंदी है और वाहन भी। सावन महीने के पहले दिन चांदी के नंदी को घर में लाकर इसकी पुजा पूरे महीने करें तो यह आपको आर्थिक संकटों से मुक्ति मिलेगी|

(5) जल पात्र

सावन महीने के पहले दिन ही गंगाजल अपने घर में लाकर रखें और पूरे महीने इसकी पुजा करे| लेकिन यदि आपके लिए गंगाजल लाना संभव नहीं तो आप चांदी, तांबे या पीतल का पात्र लाकर उसमें शुद्ध जल भरें और प्रतिदिन उससे शिवजी को जल अर्पित कर पुन: भरकर उसे रख दें। ऐसा करने पर आपको धन की प्राप्ति होगी|

(6) सर्प

सर्पराज भगवान शिव के गले में हमेशा रहते हैं। अत: सावन महीने के पहले दिन चांदी के नाग-नागिन के जोड़े को घर में लाकर रखें और इनकी हर दिन पुजा करें और सावन के अंतिम दिन उसे किसी शिव मंदिर में ले जाकर रख दें। इससे आपके ऊपर से पितृ दोष और काल सर्प से मुक्ति मिलेगी|

(7) चांदी की डिब्बी में भस्म

नई चांदी की डिब्बी में भस्म लाकर रखें और पूरे माह उसे अपने पूजन में शामिल करें और बाद में उसे तिजोरी में रख दें। इससे आपके धन में वृद्धि होगी|

(8) चांदी का कड़ा

भगवान शिव अपने पैरों में चांदी का कड़ा पहनते हैं। सावन महीने के पहले दिन इसे लाकर रखने से तीर्थ यात्रा और विदेश यात्रा के शुभ योग बनते हैं।

(9) चांदी का चंद्र

शिव जी के मस्तक पर चंद्रमा विराजित हैं| अत: सावन महीने के पहले दिन चांदी के चंद्र देव लाकर पूजन में रखें| ऐसा करने से चंद्र ग्रह से आपको शांति मिलती है साथ ही इच्छा शक्ति भी मजबूत होता है।

(10) चांदी के बिल्व पत्र

शिव जी को पूरे सावन के महीने में बिल्व पत्र अर्पित करते हैं। लेकिन हर बार शुद्ध अखंडित बिल्वपत्र मिलना असंभव होता। ऐसे में चांदी का बिल्वपत्र लाकर प्रतिदिन शिव जी को अर्पित करने से करोड़ों पापों का नाश होता है|

इस तरह भगवान विष्णु ने छल से छीन लिया था शिव से बद्रीनाथ
आखिर क्‍यों भगवान राम ने लक्ष्मण को दी थी मृत्युदंड की सजा

Check Also

 कब है वट सावित्री पूर्णिमा व्रत?

वट सावित्री पूर्णिमा व्रत बेहद महत्वपर्ण माना जाता है। यह तीन दिनों का उपवास होता …