महाशिवरात्रि के व्रत की कहानी

पुराणों के अनुसार, इसी दिन सृष्टि के आरंभ में मध्यरात्रि में भगवान शिव ब्रह्मा की काया से रुद्र के रूप में प्रकट हुए थे. इसीलिए इस दिन को महाशिवरात्रि कहा जाता है. यह भी माना जाता है कि इस दिन भगवान शंकर और पार्वती का विवाह हुआ था. इस दिन लोग व्रत रखते हैं और भगवान शिव की पूजा करते हैं.

शिव का अर्थ कल्याण होता है. जब संसार में पापियों की संख्या बढ़ जाती है तो शिव उन्हें मारकर लोगों की रक्षा करते हैं, इसीलिए उन्हें शिव कहा जाता है.

मंदिर में घुसने वाली महिला को ससुराल वालों ने घर से निकाला
भगवान शिव की आराधना, इस तरह करें

Check Also

ओटीटी प्लेटफार्म ‘उल्लू’ से ठगी करने वाली जालसाज हिना की जमानत याचिका खारिज

सीजीएम कोर्ट से जालसाज हिना की बेल एप्लीकेशन खारिजपूरी कुंडली खंगालेगी साइबर पुलिसअमेरिका तक फैला …