Tag Archives: मानव जीवन की मर्यादाएं

मानव जीवन की मर्यादाएं

इस संसार सागर में आने के बाद सत्य और अहिंसा को धारण किये हुए इंसान को मर्यादित जीवन जीना पड़ता है। जिससे उस मानव की प्रतिष्ठा और मान की पुष्टि होती है. इस जगत को सत्य, अहिंसा, प्रेम आदि का पाठ पढानें और मर्यादित जीवन व्यतीत करने के लिए भगवान राम स्वयं इस पृथ्वी लोक में जन्म लेकर मानव को …

Read More »

मानव जीवन की मर्यादाएं

इस संसार सागर में आने के बाद सत्य और अहिंसा को धारण किये हुए इंसान को मर्यादित जीवन जीना पड़ता है। जिससे उस मानव की प्रतिष्ठा और मान की पुष्टि होती है. इस जगत को सत्य, अहिंसा, प्रेम आदि का पाठ पढानें और मर्यादित जीवन व्यतीत करने के लिए भगवान राम स्वयं इस पृथ्वी लोक में जन्म लेकर मानव को …

Read More »