आशापुरा को कच्छ की कुलदेवी माना जाता है और बड़ी तादाद में इलाके के लोगों की उनमें आस्था है.

मोदी ने सोमवार को गुजरात के कच्छ इलाके से राज्य में अपने चुनावी अभियान की शुरुआत की. पीएम मोदी सबसे पहले कच्छ के आशापुरा मंदिर पहुंचे और भगवान का आशीर्वाद लिया. प्रधानमंत्री ने मंदिर में करीब 20 मिनट तक पूजा-अर्चना भी की.

 

शुक्र ग्रह को शांत करके जीवन में आने वाली कई परेशानियों को दूर किया जा सकता
मंदिर जहां हुआ शिव-पार्वती जी का विवाह: रुद्रप्रयाग

Check Also

ओटीटी प्लेटफार्म ‘उल्लू’ से ठगी करने वाली जालसाज हिना की जमानत याचिका खारिज

सीजीएम कोर्ट से जालसाज हिना की बेल एप्लीकेशन खारिजपूरी कुंडली खंगालेगी साइबर पुलिसअमेरिका तक फैला …